Positive news

वॉल पेंटिंग के जरिए सांस्कृतिक संदेश

बदरीनाथ धाम की यात्रा सुव्यवस्थित तरीके से चल रही है। हर रोज यहां हजारों श्रद्धालु भगवान बद्रीनाराण के दर्शनों का पुण्य अर्जित कर रहे हैं। इस बार जिला प्रशासन ने धाम में तीर्थयात्रियों की सुविधा के लिए कुछ खास व्यवस्थाएं भी की हैं। इसके साथ ही अलकनंदा नदी के तटों को सुन्दर और आकर्षक बनाने एवं धाम में भक्तिमय वातावरण बनाने के लिए नदी किनारे व प्रमुख स्थलों पर सुन्दर वॉल पेंन्टिग बनाई गई हैं। वॉल पेंन्टिग के माध्यम से धार्मिक, सांस्कृतिक एवं पर्यटन से जुड़ी जानकारियां और प्रमुख संदेश तीर्थयात्रियों तक पहुंचाने का प्रयास किया गया है। जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया की पहल पर तीर्थयात्रियों के लिए स्थानीय उत्पाद से खास ‘पंचबद्री प्रसाद’ तैयार किया गया है। तीर्थयात्रियों को बद्रीनाथ धाम में ही पांचों बद्री धामों का पुण्य प्रसाद मिल सके इसके लिए पंचबद्री प्रसाद का अलग से स्टॉल लगाया गया है। स्वयं सहायता समूहों की आजीविका संवर्द्धन हेतु ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत स्थानीय उत्पादों से तैयार पंचबद्री प्रसाद की न्यूनतम दरों पर बिक्री की जा रही है।


पंचबद्री प्रसाद में चौलाई के लड्डू, गुलाब जल, बद्रीश तुलसी, धूप एवं सरस्वती जल को रखा गया है, जिसे कागज के गत्ते से बने डिब्बों में पैक करके जूट से बने प्रसाद बैग के साथ तीर्थयात्रियों को बेचा जा रहा है। पंचबद्री प्रसाद के स्टॉल पर प्रसाद लेने के लिए श्रद्धालुओं की खासी भीड़ लगी रहती है। इससे आजीविका से जुड़ी महिलाओं में भी खासा उत्साह बना हुआ है। इस बार यात्रा शुरू होने के बाद अब तक पंचबद्री प्रसाद के स्टॉल से 2 लाख 15 हजार रुपये से अधिक की ब्रिकी हो चुकी है।

तीर्थयात्रियों की सुविधा के लिए धाम में बनाए गए पूछताछ केन्द्र में स्थापित पीए सिस्टम के माध्यम से श्रद्वालुओं को निरंतर बद्रीनाथ धाम एवं अन्य धार्मिक स्थलों के साथ-साथ महत्वपूर्ण जानकारियां दी जा रही हैं। पूछताछ केन्द्र तप्तकुंड के निकट बनाया गया है। धाम में आस्था पथ पर तीन एलईडी स्क्रीन लगाई गई हैं, जिनके माध्यम से श्रद्धालुओं को खास संदेश एवं आवश्यक जानकारी दी जा रही है। धाम में सीसीटीवी कैमरे से यात्रियों की सुरक्षा के पुख्ता इंतेजाम किए हैं और तीर्थयात्रियों को पल-पल की जानकारी दी जा रही है। यात्रामार्ग पर पीपलकोटी, जोशीमठ तथा गोविन्द घाट में भी एलईडी स्क्रीन के माध्यम से सुरक्षित यातायात, आवश्यक सेवाएं, आपात स्थिति में दूरभाष नम्बरों, पॉलीथीन मुक्त चारधाम यात्रा सहित अन्य आवश्यक जानकारियां दी जा रही हैं। जिले के पर्यटन स्थलों की जानकारी लोगों को आसानी से मिल सके, इसके लिए पर्यटन विभाग ने यात्रा मार्ग पर कर्णप्रयाग, पीपलकोटी एवं बिष्णु प्रयाग में बड़ी- बड़ी होर्डिंग्स लगाई हैं। धाम के सभी आंतरिक मार्गों, प्रमुख स्थलों, स्नानघाटों पर नियमित साफ सफाई रखने के लिए जिला प्रशासन ने इस बार पुख्ता इंतजाम किए हैं। बद्रीनाथ धाम में पॉलिथीन पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाया गया है। स्नान घाटों पर साबुन से नहाने पर भी रोक है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may also like