[gtranslate]
Country

गुजरात में शुरु हुई भाजपा की गौरव यात्रा

कुछ ही महीनों के भीतर होने वाले गुजरात विधानसभा चुनावों में इस बार आम आदमी पार्टी की एंट्री से सत्ताधारी भाजपा को लेकर एक्शन मेंमोड़ में आ गई है। इसके लिए पीएम मोदी सहित पार्टी के केंद्रीय दिग्गज नेता लगातार राज्य के दौरे कर रहे हैं। इस बीच पार्टी ने गुजरात गौरव यात्रा का उद्घाटन किया है। इस यात्रा के दौरान बीजेपी आदिवासियों के वोटों को समेटने का प्रयास कर रही है। दरअसल आदिवासी मतदाता हमेशा से ही कांग्रेस को वोट देते आए हैं। गुजरात के आगामी चुनाव हेतु सभी दल इन वोटरों को लुभाने का भरसक प्रयास कर रहे हैं। आम आदमी पार्टी के अलावा बीजेपी भी इन वोटरों को अपनी और खींचने में लगी हुई है। अमित शाह आज नवसारी जिले के उनाई माता मंदिर में पूजा-अर्चना करने के बाद ‘गुजरात गौरव यात्रा’ और ‘आदिवासी विकास यात्रा’ का भी शुभारंभ करेंगे। भाजपा केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के मुताबिक गुजरात की जनता इस बार उन पर विश्वास व्यक्त करेगी। इसी यात्रा के बीच भाजपा ने कांग्रेस पार्टी पर हमला बोलते हुए कहा, कांग्रेस ने वर्षों तक क्या किया भाइयों को एक-दूसरे के खिलाफ खड़ा किया, जेपी नड्डा के मुताबिक क्षेत्र और जहां पानी की जरूरत थी वहां पानी की आपूर्ति नहीं की। जो विकास की यात्रा चलानी थी उसे अटकाया, भटकाया और लटकाया, लेकिन अब वे खुद फंस गए हैं।

राजनीती में यात्राओं का दौर जोर पकड़ता रहा है। कांग्रेस द्वारा की जा रही ‘भारत जोड़ो यात्रा’ और बिहार में भाग्य आजमाने को आतुर प्रशांत किशोर की ‘जन सुराज यात्रा’ के बाद गुजरात में गौरव यात्रा की शुरुआत की गई है। गुजरात में इस यात्रा की शुरुआत जगत प्रकाश नड्डा ने 12 अक्टूबर को मेहसाणा जिले के मंदिर शहर बहुचाराजी से की है। इसके बाद इस यात्रा का समापन 20 अक्टूबर को कच्छ के मांडवी में किया जायेगा। इस यात्रा के पहले दो दिनों में यानी 12 ,13 अक्टूबर को भाजपा पांच गौरव यात्रा निकालेगी। इस गौरव यात्रा को सफल बनाने के लिए भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कार्यकर्ताओं से अपील भी की है कि वे घर -घर में पार्टी के संदेश को लेकर जाए और राज्य व केंद्र सरकार द्वारा किये विकास कार्यों ,नीतियों और कार्यक्रमों के बारे में बताये। उनके मुताबिक यह न सिर्फ गुजरात की बल्कि पूरे भारत गौरव यात्रा है।

पहले भी निकाली गई है गौरव यात्रा

 

गुजरात में किये जा रहे इस गौरव यात्रा के पांच रुट तय किये गए हैं। पहला मेहसाणा जिले के बेचाराजी से लेकर कच्छ जिले के मध्य , द्वारका से पोरबंदर, अहमदाबाद जिले के जंजारका से सोमनाथ , नवसारी जिले में उनाई से लेकर खेड़ा जिले के फागवेल और उत्तरी गुजरात में उनाई से अंबाजी। उनाई से अंबाजी तक का यह रुट बाकी सभी रुटों से लम्बा है। यह लगभग 490 किमी का मार्ग है। इसके मार्ग पर कई आदिवासी जिले है। गौरतलब है कि इस तरह की यात्रा पहली बार नहीं निकली जा रही है। यह तीसरी बार है जब भाजपा ने गुजरात में गौरव यात्रा का आरंभ किया है। इससे पहले गुजरात में इस यात्रा को 2002 में साम्प्रदायिक दंगों के बाद निकाला गया था , फिर 2017 में चुनावों के दौरान भी इस यात्रा की शुरुआत की गई थी । यही नहीं भाजपा द्वारा निकाली गई इन यात्रा से इन्हे फायदा भी हुआ था । 2002 के दौरान गुजरात में भाजपा ने कुल 182 सीटों में से 127 सीटें जीती थीं। 2017 में बीजेपी को 99 और कांग्रेस को 77 सीटें मिली थीं।

यह भी पढ़ें : मोहन भागवत को ‘राष्ट्रपिता’ कहने वाले इमाम को मिली Y प्लस सुरक्षा

You may also like

MERA DDDD DDD DD