[gtranslate]
world

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा, भारत ने सही समय पर लिया लॉकडाउन का फैसला

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा, भारत ने सही समय पर लिया लॉकडाउन फैसला

मोदी सरकार ने पिछले महीने पूरे देश में 21 दिनों का लॉकडाउन लागू किया। सरकार के इस फैसले की विपक्षी दलों ने आलोचना भी किया। कहा गया कि सरकार ने बिना किसी तैयारी के लॉकडाउन का ऐलान कर दिया।

हालांकि विश्व स्वास्थ्य संगठन के विशेष दूत डॉक्टर डेविड नाबरो का कहना है कि भारत में लॉकाडउन को जल्दी लागू करना एक दूर की सोच थी, साथ ही ये सरकार का साहसिक फैसला था।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक डेविड नाबरो ने कहा, “भारत में लॉकडाउन को काफी जल्दी लागू किया गया। ये तब अमल में लाया गया, जब यहां कोरोना के काफी कम मामले थे। निश्चित तौर पर ये भारत का दूरदर्शी फैसला था। इस फैसले से लोगों को इसके खतरे के बारे में ठीक से पता लग जाएगा।”

डेविड नाबरो ने कहा कि तीन हफ्ते का लॉकडाउन बिल्कुल सही रणनीति है। क्या देर से लॉकडाउन होता तो कई लोगों की जान जा सकती थी साथ ही ये बड़े स्तर पर फैल सकता था।

नाबरो का ये भी मानना है कि कई देशों में लॉकडाउन का सही तरीके से पालन नहीं किया गया। उनका इशारा यूरोप और अमेरिका की तरफ था। यहां हर दिन हज़ारों लोगों की जान जा रही है। अमेरिका में तो पिछले 24 घंटे में 1480 लोगों की जान जा चुकी है।

उन्होंने कहा, “मुझे नहीं पता की गर्मी के दिनों में क्या होगा। ये वायरस अभी सिर्फ 4 महीने पुराना है। मैं देखना चाहूंगा कि भारत में गर्मी के मौसम में किस तरह के हालात होते हैं। क्या ये कम होंगे, या फिर इसमें ज्यादा बदलाव नहीं आएगा।”

उनका ये भी मानना है कि आने वाले दिनों में इस खतरनाक वायरस का संक्रमण खत्म नहीं होने वाला है। नाबरो के मुताबिक अभी इस वायरस के बारे में कुछ भी नहीं कहा जा सकता है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD