world

जेल में हिंसा

उत्तरी ब्राजील में एक बार फिर जेल में हिसंक हुई है। यहां की एक जेल में प्रतिद्वंद्वी गुटों के बीच हुई झड़प में 52 लोग मारे गए। जानकारी के मुताबिक घटना कई घंटे तक चली। इस झड़प में 16 लोगों के सिर धड़ से अलग कर दिए गए। करीब दो महीने पहले भी उत्तर ब्राजील की चार जेलों में हुई हिंसा में कम से कम 57 लोगों की मौत हो गई थी। मारे गए। कैदियों में कम से कम 27 कैदी एमेजोनस राज्य की राजधानी मनौस के निकट एटोनियो त्रिनिदाद पैनल इंस्टीट्यूट में थे, जहां ये चार जेल स्थित है।

फेडरल सरकार जेलां की सुरक्षा बढ़ाने के लिए अतिरिक्त सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है। कहा जा रहा है कि मनौस से करीब स्थित जेल में कैदियों की मुलाकात के दौरान यह हिंसा हुईं। आधिकारिक आंकड़ो के मुताबिक ब्राजील कैदियों की संख्या के मामले में विश्व में तीसरे नंबर पर है। कुल 3 ़68049 कैदियों की क्षमता वाले यहां के जेलों में जून 2016 तक 7 ़26 712 कैदी थे। यह संख्या उसकी जेलों की क्षमता से दोगुनी है।

इस जेल में क्षमता से दोगुने कैदी बंद थे। बताया जाता है कि यह लड़ाई स्थानीय कमांडो क्लास ए गैंग और कमांडो वर्मेल्हो कैंग के बीच हुई थी। कमांडो क्लास ए गैंग के लोग अपने प्रतिद्वदी गुट पर टूट पड़े और जो भी मिला उसे मौत के घाट उतार दिया। इसके बाद उन्होंने आग लगा दी जिसके चलते कई कैदी घुटन से मर गए।

ब्राजील की जेलों में हिंसा कोई नई बात नहीं है। इससे पहले 2017 में ब्राजील के मनाऊस में ड्रग तस्करी में वर्चस्व को लेकर 56 कैदियों की हत्या हुई थी। उसके बाद से हिंसा का सिलसिला यहां की जेलों में चला आ रहा है। 56 कैदियों की हत्या के ठीक अगले ही दिन मनाऊस की ही एक दूसरी जेल में 4 कैदी मारे गए। उसके 5 दिन बाद बोआ विस्टा की जेल में 33 कैदी मारे गए। यह सिलसिला चलता रहा। तबसे लेकर आज तक प्रतिद्वंदी गुटों की लड़ाई में सैकड़ों लोगों की जान जा चुकी है।

You may also like