world

ट्रंप  के चलते संकट में अमेरिकी संविधान

अमेरिका के पैंतालिसवें राष्ट्रपति टंªप का कार्यकाल समाप्त होने में अब मात्र कुछ माह ही बाकी हैं। बहुत संभावना है कि अमेरिका उन्हें दोबारा राष्ट्रपति चुनने से रहा। अपने भड़काऊ और विवादित बयानों के लिए मशहूर डोनालड टंªप ने एक बार फिर से जन्म के आधार पर अमेरिका में मिलने वाली नागरिकता का मुद्दा उठा दिया है। बुधवार, 21 अगस्त को टंªप ने अमेरिकी संविधान के चैदहवें संशोधन को गैर जरूरी करार देते हुए कहा कि वे गंभीरतापूर्वक इस प्रक्रिया को समाप्त करने पर विचार कर रहे हैं। इससे पहले टंªप ने 2018 में एक्सियोस शहर में आयोजित एक रैली में इस कानून को हटाने की बात कह राजनीतिक हलकों में विवाद को जन्म दे दिया था। तब टंªप ने कहा था-‘हम विश्व में एक मात्र ऐसा देश हैं जहां कहीं से भी कोई आकर एक बच्चा पैदा कर देता है जो आने वाले 85 बरस तक हमारे देश का नागरिक बन सारी सुविधाओं का हमदार बन जाता है। यह बेहूदा है। बेहूदा हैं! इसे समापत करना ही होगा।’ हालांकि अपने झूठे कथनों के लिए कुख्यात टंªप के इस दावे को लेकर खासा मजाक तब बना था, कि अमेरिका विश्व का एकमात्र देश हैं जहां जन्म के आधार पर नागरिकता मिल जाती है।

वर्तमान में 30 देशों में यह व्यवस्था लागू है। अमेरिकी संविधान में नौ जुलाई,1868 में एक बड़ा संशोधन किया गया जिसे चैंदहवां संशोधन कहा जाता है। इसके जरिए अमेरिका में जन्म लेने वाला प्राकृतिक रूप से अमेरिका का नागरिक माना जाता है। राष्ट्रपति ट्रंप का मानना है कि अवैध रूप से अमेरिका में रह रहे लोगों के बच्चों को अमेरिका की नागरिकता जन्म के आधार पर दिए जाने के चलते यहां के असली नागरिकों का भारी नुकसान हो रहा है। अमेरिका में इसे ‘सस्ती लोकप्रियता’ का एक हथकन्डा वहां के राजनेता और बुद्धिजीवि मान रहे हैं। संविधान विशेषज्ञों का मानना है कि यदि राष्ट्रपति ऐसा कोई आदेश जारी करते हैं तो उसे तत्काल ही अदालत में चुनौती दी जा सकती हैं।

अमेरिका की शीर्ष अदालत 1898 में ही इस बाबत अपना निर्णय दे चुकी है। 1898 में अमेरिका में जन्में चीनी मूल के वौंग किम को तब अमेरिका में वापस आने से रोक दिया गया था। चीन की यात्रा पर गए वौंग किम ने इसके खिलाफ मुकदमा करा जिस पर उन्हें अमेरिकी नागरिक मानते हुए अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट ने देश वापसी की इजाजद दे दी थी। बहरहाल एक और टर्म के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति बनने की इच्छा पाले टंªप इन दिनों लगातार ऐसे विवादित बयान दे रहे हैं जिनके चलते उन्हें आम अमेरिकी का सपोर्ट मिल सके।

You may also like