[gtranslate]
Country world

यह ब्रेसलेट देगा कोरोना वैक्सीन पासपोर्ट का सबूत

कैलिफ़ोर्निया में स्थित स्टार्टअप इम्मुनबैंड ने एक ऐसा ब्रेसलेट विकसित किया है। कोरोना काल में ये बैंड काफी कम समय में बहुत लोकप्रिय हो गया है। इस ब्रेसलेट की विशिष्टता यह है कि यह उपयोगकर्ता को कोविड 19 वैक्सीन पासपोर्ट और संबंधित दस्तावेजों को डिजिटल रूप से सुरक्षित करने की अनुमति देता है। यह ब्रेसलेट कलाई के बैंड की तरह दिखता है। जिसकी कीमत 20 डॉलर रखी गयी है।

यह ब्रेसलेट नाम, पता, टीकाकरण का समय, अगली खुराक, किस कंपनी की वैक्सीन और कोरोना से जुड़ी अन्य जानकारियों को स्टोर कर सकता है। उपयोगकर्ता क्यूआर कोड को स्कैन कर सकता है और आवश्यकता पड़ने पर यह जानकारी जमा भी कर सकता है।

चूंकि कई यूरोपीय देशों ने कोरोना पासपोर्ट का उपयोग करने का निर्णय लिया है। इसलिए यह ब्रेसलेट दूसरे देश की यात्रा करते समय टीकाकरण की जानकारी प्रदान करने का सबसे आसान और सुविधाजनक तरीका बन गया है। इसलिए यह थोड़े ही समय में लोकप्रिय हो गया है। कंपनी की वेबसाइट पर इस ब्रेसलेट को ऑनलाइन खरीदा जा सकता है।

क्या है वैक्सीन पासपोर्ट?

गौरलतब है कि कुछ देशों की ओर से इंटरनेशनल ट्रैवलिंग को कुछ विशेष प्रतिबंधों के साथ इजाजत दी है। प्रतिबंधों के तहत 14 दिन तक ट्रैवलर को क्वारैंटाइन रहना पड़ रहा है। इस वजह से लोग ट्रैवल करने से जितना हो सके बच रहे हैं। लेकिन इससे टूरिज्म को बड़ा नुकसान झेलना पड़ रहा है। क्योंकि कई देशों की अर्थव्यस्था ही पर्यटन पर टिकी है।

लेकिन अगर वैक्सीन पासपोर्ट बन जाता है तो पर्यटन को फिर बढ़ावा मिलेगा और इससे ये पता चल पाएगा कि ट्रैवेल करने वाले व्यक्ति ने वैक्सीन ली है या नहीं। सिर्फ वैक्सीन लगवाने वाले व्यक्ति को ही ये पासपोर्ट मिलेगा।

यह भी पढ़ें : जानिए, क्या है कोरोना वैक्सीन पासपोर्ट, क्यों कई देश कर सकते हैं इसे लागू?

You may also like

MERA DDDD DDD DD