[gtranslate]
world

फिर लॉकडाउन की तरफ बढ़ती दुनिया

एक बार फिर कोरोना विश्व के लिए आफत बनता जा रहा है। नए ओमीक्रॉन वैरिएंट ने दुनियाभर में फिर से पाबंदियों का दौर ला दिया है। कोरोना से त्रस्त देशों में धीरे-धीरे खत्म हो रहे प्रतिबंधों पर अब अचानक से ब्रेक लग गया है। टीकाकरण की तेज रफ्तार के साथ ही उम्मीद की जा रही थी कि कोरोना का असर घटने लगेगा। लेकिन प्रतिदिन अमेरिका, फ्रांस, ब्रिटेन जैसे देशों से रोज रिकॉर्ड कोविड केस आ रहे हैं। इतनी गति से बढ़ते मामलों ने एक बार फिर से पूरे विश्व को सख्त प्रतिबंधों की वापसी के लिए विवश कर दिया है। ओमीक्रॉन का जाल 89 देशों में फैल चुका है और लगातार इसका विस्तार होता जा रहा है। 89 देशों में दस्तक दे चुके ओमीक्रॉन से कई देशों में पुनः लॉकडाउन की स्थिति पैदा होने लगी है। यूरोप के अधिकांश देश इस नए वेरिएंट की चपेट में हैं। भारत में भी अब तक 100 से ज्यादा केस सामने आ चुके हैं। ओमीक्रॉन सुरक्षा के मद्देनजर नीदरलैंड ने क्रिसमस से पहले ही लॉकडाउन का एलान कर दिया है। वहीं ब्रिटेन द्वारा भी क्रिसमस के बाद दो हफ्ते का लॉकडाउन लगाने पर विचार किया जा रहा है। फ्रांस और जर्मनी में भी सख्त प्रतिबंध लगने शुरू हो गए हैं। लगातार बढ़ते मामलों पर विश्व स्वास्थ्य संगठन चिंता जाहिर की है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा है कि 89 देशों में ओमीक्रॉन कोरोना वायरस की सूचना मिली है और कम्युनिटी ट्रांसमिशनवाले क्षेत्रों में मामलों की संख्या 1 .5 से तीन दिनों में दोगुनी हो रही है। डब्ल्यूएचओ ने कहा कि ओमीक्रॉन उच्च स्तर की जनसंख्या वाले देशों में तेजी से फैल रहा है, लेकिन यह स्पष्ट नहीं है कि यह वायरस की इम्यून से बचने की क्षमता के कारण है या इसकी स्वाभाविक बढ़ी हुई ट्रांसमिशन या दोनों के संयोजन के कारण है। डब्ल्यूएचओ ने कहा, ओमीक्रॉन की गंभीरता पर अभी भी सीमित आंकड़े हैं। इस वेरिएंट को समझने के लिए अभी भी अधिक डेटा की आवश्यकता है। डब्ल्यूएचओ ने चेतावनी दी है कि मामले इतनी तेजी से बढ़ रहे हैं कि कुछ जगहों पर अस्पतालों पर दबाव बढ़ सकता है। यूके और दक्षिण अफ्रीका में अस्पतालों की संख्या बढ़ाई जा रही है और तेजी से बढ़ते मामलों को देखते हुए कई देशों में स्वास्थ्य व्यवस्थाएं मजबूत की जा रही है।

क्रिसमस से पहले नीदरलैंड में लॉकडाउन

नीदरलैंड ने क्रिसमस से पहले लॉकडाउन की घोषणा कर दी है। लंदन सहित यूरोप के अधिकांश देशों में ओमीक्रॉन के बढ़ते केस को देखते हुए नीदरलैंड में सख्ती बढ़ा दी गई है। वहीं यूरोपीय संघ के प्रमुख उर्सुला वॉन डेर लेयन ने चेतावनी दी है कि जनवरी के मध्य तक यूरोप में ओमीक्रॉन वेरिएंट हावी हो सकता है। दक्षिण अफ्रीका में पहली बार वेरिएंट का पता चलने के हफ्तों बाद कई देश यात्रा प्रतिबंध और अन्य उपायों को फिर से लागू कर रहे हैं। डच प्रधान मंत्री मार्क रूट ने घोषणा की कि सभी गैर-जरूरी दुकानें, सांस्कृतिक और मनोरंजन स्थल 14 जनवरी तक बंद रहेंगे, जबकि स्कूल कम-से-कम 9 जनवरी तक बंद रहेंगे।

ब्रिटेन में भी लॉकडाउन लगाने की योजना
ब्रिटेन में कोविड की बढ़ती चिंताओं के बीच क्रिसमस के बाद दो सप्ताह का लॉकडाउन लागू करने की संभावना है। ‘द टाइम्स’ के अनुसार, यूके के मंत्री क्रिसमस के बाद दो सप्ताह के लॉकडाउन की योजना बना रहे हैं, ताकि कोरोना वायरस के नए ओमीक्रॉन वेरिएंट के प्रसार को रोका जा सके। ओमीक्रॉन वेरिएंट के तेजी से प्रसार के बाद इंग्लैंड के वर्तमान प्लान बी में चुनिंदा आयोजनों के लिए कोविड स्वास्थ्य कार्ड, थिएटर और सिनेमाघरों सहित अधिकांश सार्वजनिक इनडोर स्थानों पर फेस मास्क अनिवार्य कर दिया गया है। ब्रिटेन में रोज कोरोना रिकॉर्ड टूट रहे हैं, ऐसे में अस्पतालों में भी मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। 18 दिसंबर को ब्रिटेन में कोरोना के 90,418 मामले सामने आए हैं। चिंता की बात ये है कि इन आंकड़ों में 10 हजार मामले ओमिक्रॉन के हैं।

फ्रांस के पीएम ने कहा, बिजली की गति से फैल रहा ओमीक्रॉन­­­
फ्रांस के राष्ट्रपति प्रधानमंत्री जीन कास्टेक्स ने चेतावनी दी है कि ओमीक्रॉन वेरिएंट यूरोप में बिजली की गति से फैल रहा है। उन्होंने कहा कि यह वेरिएंट संभवतः अगले साल की शुरुआत तक फ्रांस में प्रभावी हो जाएगा। फ्रांस द्वारा यूनाइटेड किंगडम से प्रवेश करने वालों पर सख्त यात्रा प्रतिबंध लगाने से कुछ घंटे पहले यह बात कही है। ब्रिटेन अब तक इस क्षेत्र में सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाला देश है। ब्रिटेन में शनिवार को लगभग 25,000 ओमीक्रॉन मामलों की पुष्टि की गई। पूरे महाद्वीप में स्वास्थ्य अधिकारी संक्रमण की लहर के लिए तैयार हैं। जर्मनी, आयरलैंड गणराज्य और नीदरलैंड में शुक्रवार को अतिरिक्त प्रतिबंधों की घोषणा की गई है। ताजा यूरोपीय संघ के आंकड़ों के अनुसार, यूरोप में पहले ही 89 मिलियन से अधिक मामले और 1.5 मिलियन कोविड से संबंधित मौतें हो चुकी हैं।

You may also like

MERA DDDD DDD DD