[gtranslate]
world

‘माफ कीजिए कोरोना से कुछ लोग तो मरेंगे ही, हम फैक्टरी नहीं बंद कर सकते’

'माफ कीजिए कोरोना से कुछ लोग तो मरेंगे ही, हम फैक्टरी नहीं बंद कर सकते'

पूरी दुनिया कोरोना वायरस के प्रकोप से जूझ रही है। वहीं कोरोना वायरस से हो रही मौतों पर ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोलोनसरो ने शुक्रवार रात को एक टीवी को दिए साक्षात्कार में कहा, “मुझे माफ कीजिएगा कुछ लोग मरेंगे, वे मरेंगे। आप एक कार की फैक्टरी को इसलिए नहीं बंद कर सकते क्योंकि ट्रैफिक की वजह से मौते होती हैं।”

बोल्सनारो ने आगे कहा कि बड़ी संख्या में ब्राजील की अर्थव्यवस्था के पावरहाउस साओ पाउलो में लोगों की मौतें हुई हैं। ब्राजील में कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मामले भी इसी राज्य से सामने आए हैं। इसी राज्य में इस वायरस के मामले भी ज्यादा पाए गए है। अभी तक साओ पाउलो में कोरोना वायरस के 1,233 मामले सामने आए हैं। साथ ही 68 लोग अपनी जान गँवा चुके हैं। राष्ट्रपति ने कहा, “हमें यह देखने की जरूरत है कि वहां क्या हो रहा है। यह राजनीतिक हितों के लिए संख्या का कोई खेल नहीं है।”

शुक्रवार को साओ पाउलो के गवर्नर जोआओ डोरियाने बोल्सनारों पर टीवी विज्ञापनों के माध्यम से प्रतिबंधों की आलोचना करने वाली गलत इनफार्मेशन का प्रसार करने का आरोप भी लगाया गया था। साथ ही उन्होंने साओ पाउलो में हुई मौत के आंकड़ों पर भी शक जताया। ये मौतें कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण हुई थी। बोल्सनारो ने राज्य के गवर्नर की ओर से किए गए दावों को राजनीतिक स्वार्थ बताया। उन्होंने गवर्नर पर बिना सबूत के स्वार्थ सिद्धि के लिए हेरफर करने का आरोप लगाया। यह आरोप ऐसा समय में सामने आया है जब बोल्सनारो और गवर्नरों के बीच  पहले से ही तनातनी चल रही है।

गवर्नर डोरियाने पहले बोल्सनारो के सहयोगी रह चुके हैं। राजनितिक विशेषज्ञ की ओर से साल 2022 के राष्ट्रपति चुनाव का उम्मीदवार भी बताया जाता रहा है। गवर्नर का कहना है कि सामाजिक दूरी के उपायों को प्राथमिकता पर उठाने की बजाए वे अर्थव्यवस्था की रक्षा करने में लगे हुए है।

सार्वजनिक स्वास्थ्य विशेषज्ञों की सलाह के बाद, देश के 26 गवर्नरों ने गैर-आवश्यक वाणिज्यिक गतिविधियों और सार्वजनिक सेवाओं पर अपने राज्यों में वायरस के प्रकोप को रोकने के लिए प्रतिबंध लगाया है। शुक्रवार को ब्राजील के न्याय मंत्री ने कहा कि उन्होंने सभी विदेशी नागरिकों को हवाईअड्डे के माध्यम से अपने देश में आने वाले सभी लोगों को रोक दिया है। यह यात्रा प्रतिबंध सोमवार से ही प्रभावी हो गया और कई अन्य दक्षिण अमेरिकी देशों में इसी तरह के उपायों का पालन किया गया है।

You may also like