[gtranslate]
world

पाकिस्तान का हाल हुआ और खस्ता, विश्‍व बैंक से फ‍िर कर्ज लेने की कर रहा तैयारी

पाकिस्तान का हाल हुआ और खस्ता, विश्‍व बैंक से फ‍िर कर्ज लेने की कर रहा तैयारी

पूरा विश्व इस समय कोरोना संकट से गुजर रहा है। वहीं इस संकट के कारण अब पाकिस्तान दिन-प्रतिदिन कंगाल होता जा रहा है। कोरोना की वजह से पाकिस्तान में गरीबी बहुत बढ़ गई है। पाकिस्तानी सरकार एक बार फिर आर्थिक संकट से जूझ रही है। इससे बाहर निकलने के लिए पाकिस्तानी सरकार ने अंतरराष्ट्रीय वित्तीय संस्थानों से ऋण लेने की योजना बनाई है। एक रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान को कोरोना वायरस के संकट से निपटने में मदद की जरूरत है।

पाकिस्तान ने विश्व बैंक और एशियाई विकास बैंक से ऋण मांगा है। उन्होंने जो कर्ज मांगा है वह 20 देशों से मांगे गए कर्ज से ज्यादा है। द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने इस संबंध में खबर दी है। पाकिस्तान ने G20 से in 1.8 बिलियन की सहायता मांगी है। एशियन डेवलपमेंट बैंक (ADB) ने कोरोना की पृष्ठभूमि के खिलाफ पाकिस्तान को 30.5 करोड़ रुपये का आपातकालीन ऋण देने का फैसला किया है। यह कोरोना से लड़ने के लिए आवश्यक उपकरण प्रदान करेगा, साथ ही साथ गरीब महिलाओं को वित्तीय सहायता भी प्रदान करेगा।

GDP ऋण का 90%

एशियाई विकास बैंक (ADB) कुछ शर्तों के तहत पाकिस्तान को ऋण देगा। पिछले महीने, पाकिस्तान को अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष से ३.३ ९ बिलियन का आपातकालीन ऋण मिला और विश्व बैंक से २०.०० मिलियन। इस बीच जून तक पाकिस्तान पर कर्ज का बोझ बढ़कर 37,500 अरब रुपये या जीडीपी का 90 फीसदी होने की उम्मीद है।

केवल ऋण चुकौती पर खर्च

रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान इस साल 2,800 अरब रुपये खर्च करेगा। जब दो साल पहले पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) सरकार सत्ता में आई थी, तब पाकिस्तान पर सार्वजनिक कर्ज का बोझ 24,800 लाख करोड़ रुपये था। यह भी उल्लेख किया गया है कि यह अब तेजी से बढ़ रहा है।

पिछले 24 घंटे में पाकिस्तान में कोरोना वायरस के 469 नए मामले सामने आए। अब तक कुल 45,898 लोगों को संक्रमण हो चुका है और 985 की मौत हो चुकी है। बताया जा रहा है कि इमरान खान के पीएम बनने के बाद से पाकिस्तान पर कर्ज बढ़ते जा रहे हैं। वहीँ, पाकिस्तान में कोरोना भी तेजी से बढ़ रहा है

You may also like