world

पाक ने टेके घुटने भारत के लिए खोला एयरस्पेस

बालाकोट एयरस्ट्राइक के 140 दिन बाद पाकिस्तान ने अपने एयरस्पेस को खोल दिया है। पाकिस्तान सिविल एविएशन अथॉरिटी की ओर से जारी नोटिस में कहा गया कि तत्काल प्रभाव से पाकिस्तान एयरस्पेस को सभी प्रकार के नागरिक यातायात के लिए खोल दिया गया है।  इस कदम से एयर इंडिया को बड़ी राहत मिलने की उम्मीद है। पाकिस्तानी एयरस्पेस बंद होने से एयरइंडिया को 491 करोड़ रुपये का भारी वित्तीय नुकसान उठाना पड़ा। साथ ही इसका भारी  नुकसान  पाकिस्तान पर भी पड़ा  हैं। इससे पाकिस्तानी एयरलाइंस को 100 मिलियन डॉलर (लगभग 688 करोड़ रुपये) का नुकसान हुआ है।

पाकिस्तान ने फरवरी में बालाकोट हवाई हमलों के बाद भारतीय विमानों के लिए अपना एयरस्पेस बंद कर दिया था।  इसके बाद से भारतीय विमान यहां से नहीं गुजर रहे थे।  पाकिस्तान के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण ने इसे लेकर देर शाम  एक नोटिस जारी किया, जिसमें कहा गया कि ‘तत्काल प्रभाव से पाकिस्तान का हवाई क्षेत्र सभी सिविलियन ट्रैफिक के लिए खुला है।
पाकिस्तान अहम एविएशन कॉरिडोर के बीच में पड़ता है इससे हर दिन सैकड़ों यात्री और मालवाहक विमानों की उड़ानों पर असर पड़ रहा था । एयरलाइंस को ईंधन पर ज्यादा खर्च उठाना पड़ रहा था. वहीं, यात्रियों को अपने गंतव्य तक पहुंचने में पहले से ज्यादा समय लग रहा था।

बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद से पाकिस्तान ने अपने एयरस्पेस को बंद कर रखा था । तब  उसने कहा था  कि वह भारत की वाणिज्यिक उड़ानों के लिए तब तक अपने हवाई क्षेत्र को नहीं खोलेगा, जब तक भारतीय वायुसेना के अग्रिम एयरबेस से लड़ाकू विमानों को नहीं हटा लिया जाता है।
पिछले महीने ऐसी खबरें आई थी कि पाकिस्तान ने एयरस्पेस खोलने के लिए भारत के सामने शर्त रखी थी. कहा गया था कि पाकिस्तान उस वक्त तक हवाई क्षेत्र नहीं खोलेगा जब तक कि वो बालाकोट जैसी एयर स्ट्राइक को नहीं दोहराएगा।लेकिन अब ऐसा लग रहा है कि पाकिस्तान ने कुटनीतिक दवाब और आर्थिक तंगी के चलते घुटने टेक दिए हैं।

You may also like