[gtranslate]
world

फ्रांस की राजधानी पेरिस में लगा एक महीनें का लॉकडाउन

कोरोना का कहर रूकने की बजॉय दोबारा पनप रहा है। फ्रांस, ब्राजील, अमेरिका, भारत समेत कई देश ऐसे है जहां कोरोना रूकने की बजाय बढ़ दोबारा बढ़ रहा है। कोरोना की तीसरी लहर की वजह से फ्रांस की राजधानी पेरिस में एक महीने का लॉकडाउन लगा दिया गया है। इसके साथ ही फ्रांस के 15 अन्य इलाकों में भी लॉकडाउन लगाने की तैयारी चल रही है। फ्रांस के प्रधानमंत्री जीन कैस्टेक्स ने कहा है कि यह लॉकडाउन ज्यादा सख्त पाबंदियों वाला नहीं होगा। फ्रांस में बीते 24 घंटे में 350000 नए मामले सामने आए है। यूरोपियन मेडिसन एजेंसी की क्लीनचिट के बाद जल्द ही यूरोपियन देश एस्ट्राजेनेका-ऑक्सफोर्ड की कोरोना वैक्सीनेशन शुरू करने की तैयारी में है।

यूरोपियन देशों ने कहा कि स्पेन, पुर्तगाल, नीदरलैंड्स, जर्मनी, इटली, फ्रांस, लात्विया, लिथुआनिया और साइप्रस समेत कई देशों में जल्द ही इस वैक्सीन का इस्तेमाल शुरू होगा। वहीं, आयरलैंड और स्वीडन में हालात का रिव्यू करने के बाद इस पर फैसला लेंगे। एस्ट्राजेनेका और वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने कहा था कि इस बारे में कोई सबूत नहीं हैं कि इस वैक्सीन लगने के बाद ब्लड क्लॉटिंग के मामले बढ़े। EMA ने भी वैक्सीन कर समर्थन करते हुए कहा था कि कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच वैक्सीन पर रोक लगाना ठीक नहीं है।

दुनिया में कुल मरीजों की संख्या 12 करोड़ के पार पहुंच गई है। अभी यह आंकड़ा 12.23 करोड़ से ज्यादा है। बीते 24 घंटे में 5.41 लाख नए संक्रमित मिले हैं। 10 हजार से ज्यादा मरीजों की मौत हुई है। अब तक 9 करोड़ 86 लाख से ज्यादा कोरोना संक्रमित ठीक हो चुके हैं। 27 लाख 2 हजार से ज्यादा ने जान गंवाई है। दुनियाभर में फिलहाल 2 करोड़ 10 लाख से ज्यादा संक्रमितों का इलाज चल रहा है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD