world

मोदी और इमरान होंगे आमने- सामने

कश्मीर मुद्दे पर तनाव के बाद पहली बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पाक पीएम इमरान खान 27 सितंबर को अमेरिका में आमने-सामने होंगे। संयुक्त राष्ट्र महासभा के 74वें सत्र में 27 सितंबर को मोदी उच्च स्तरीय सत्र को संबोधित करेंगे। उनके भाषण के कुछ समय बाद इमरान को बोलना है।

जैसा की इमरान पहले कह चुके हैं वह इस दौरान एक बार फिर कश्मीर मुद्दा उठा सकते हैं। वहीं, अपनी एक सप्ताह की यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक सप्ताह न्यूयार्क में कई देशों के साथ द्विपक्षीय और बहुपक्षीय एजेंडे पर चर्चा भी करेंगे।
अपने दूसरे कार्यकाल में पहली बार मोदी यूएन महासभा को संबोधित करेंगे, इससे पहले 2014 में उन्होंने महासभा में भाषण दिया था। कल 9 सितंबर को जारी हुई संयुक्त राष्ट्र महासभा के वक्ताओं की सूची के मुताबिक 24 से 30 सितंबर तक चलने वाले सत्र में कुल 112 राष्ट्र प्रमुख, विविध सरकारों के 48 मुखिया और 30 विदेश मंत्री न्यूयार्क पहुंचेंगे। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का संबोधन 24 सितंबर को होना है।

इस मौके पर बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन 24 सितंबर को पीएम नरेंद्र मोदी को 2019 के ग्लोबल गोल कीपर अवार्ड से सम्मानित करेगा। यह सम्मान फाउंडेशन द्वारा देश और दुनिया में वैश्विक लक्ष्यों की प्राप्ति की ओर प्रतिबद्धता दिखाने वाले नेता को देता है। मोदी को यह सम्मान स्वच्छ भारत मुहिम के लिए दिया जाएगा। इस मुहिम के जरिए मोदी सरकार का लक्ष्य इस वर्ष महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर पूरे देश को खुले में शौच से मुक्त बनाने का है। इसके तहत देश में नौ करोड़ शौचालय बनाए गए।

यूएन में मोदी का कार्यक्रम
23 सितंबर : जलवायु परिवर्तन पर शिखर सम्मेलन में एंटोनियो गुटेरस के साथ हिस्सा लेंगे
24 सितंबर : इकोनोमिक एंड सोशल काउंसिल चैंबर में समकालीन दुनिया में गांधी की प्रासंगिकता कार्यक्रम की मेजबानी
25 सितंबर : ब्लूमबर्ग ग्लोबल बिजनेस फोरम में प्रमुख वक्ता के तौर पर संबोधन देंगे।
24 व 25 सितंबर : एसडीजी शिखर सम्मेलन 2019 की मेजबानी करेंगे पीएम मोदी
इससे पहले यूएन महासभा में हिस्सा लेने पीएम मोदी 22 सितंबर को ह्यूस्टन जाएंगे और वहां प्रवासी भारतीयों को संबोधित करेंगे। इस कार्यक्रम का आयोजन टेक्सास इंडिया फोरम कर रहा है।
मोदी न्यूयार्क यात्रा के दौरान गांधी पीस गार्डन का भी शुभारंभ करेंगे। गांधी की 150वीं जयंती के मौके पर न्यूयार्क स्थित भारतीय दूतावास की पहल पर यह गार्डन खोला जा रहा है। इसके तहत शांति फंड एनजीओ, न्यूयार्क स्टेट यूनिवर्सिटी और ओल्ड वेस्टबरी 150 पौधे लगाएंगे।

You may also like