[gtranslate]
world

जानिए, किस देश में मिलेगी कुत्तों और घोड़ों को पेंशन, संसद में पेश होगा कानून

रिटायर होने के बाद आपने एक व्यक्ति को पेंशन मिलते तो सुना ही होगा पर क्या कभी आपने जानवरों को पेंशन मिलते सुना है? पोलैंड में अब रिटायर हुए कुत्तों और घोड़ों को भी पेंशन दी जाएगी। पोलैंड पुलिस के द्वारा सीमा गार्ड और दमकल सेवाओं से रिटायर होने वाले कुत्तों और घोड़ों के लिए पेंशन देने की योजना बनाई गई है। ऐसा इसलिए किया जा रहा है ताकि देश सेवा करने वालों को सेवा के बाद भी सामाजिक सुरक्षा मिल सके।

सेवारत कुत्तों और घोड़ों को सेवानिवृत्ति के बाद सरकारी देखभाल मिलनी बंद हो जाती है और उन्हें गैर सरकारी संगठनों या ऐसे लोगों को सौंप दिया जाता है जो उन्हें गोद लेना चाहते हैं। परंतु अब गृह मंत्रालय की ओर से एक कानून का प्रस्ताव दिया गया है जिसके तहत कुत्तों और घोड़ों के रिटायर होने के बाद उनके नए मालिकों को महंगे बिलों को कवर करने में काफी मदद मिल सकेगी।

हर काम में निपुण होता है जानवर

पोलैंड के गृहमंत्री मॉरिस कमिंस्की ने एक मसौदा कानून को नैतिक दायित्व के रूप में वर्णित करते हुए बताया कि यह कुत्ते और घोड़े गिर चुकी इमारतों में जीवित बचे लोगों का पता लगाते हैं। साथ ही यह कुत्ते भगोड़ों और ड्रग्स तथा विस्फोटक तस्करों का भी पता लगाते हैं। इसके साथ ही यह उपद्रवी भीड़ को काबू करने में भी काफी मदद करते हैं और ऐसे में जब उनकी सेवानिवृत्ति का वक़्त आता है तो उनकी सारी सरकारी देखभाल खत्म हो जाती है और उन्हें भविष्य के कल्याण के लिए कोई सुरक्षा उपाय भी नहीं दी जाती हैं। इससे रिटायर हुए कुत्तों-घोड़ों के नए मालिकों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

आम सहमति की उम्मीद

गृहमंत्री मॉरिस कमिंस्की ने प्रस्तावित कानून के मसौदे को एक नैतिक जिम्मेदारी बताते हुए यह उम्मीद जताई है कि इसे संसद से आम सहमति अवश्य मिलेगी। यह विधेयक साल के अंत में संसद में पेश होना है। इसपर उन्होंने कहा, इस नए कानून से 1,200 कुत्तों और 60 घोड़ों को लाभ मिल सकेगा। गौरतलब है कि पोलैंड में हर साल 10 फीसदी जानवरों को सेवानिवृत्त किया जाता हैं। इनमें से अधिकांश कुत्ते जर्मन या बेल्जियम शेफर्ड होते हैं।

महंगी चिकित्सा की है आवश्यकता

वारसा पुलिस स्निफर डॉग के प्रमुख पावेल कुचनियो का कहना है कि सेवानिवृत्त कुत्तों को हमेशा महंगी चिकित्सा देखभाल की आवश्यकता होती है। ऐसे में पेंशन राशि निश्चित रूप से ही एक बड़ी मदद देगी और इससे जानवरों को महंगे दामों पर खरीदने वाले मालिकों को काफी लाभ मिलेगा। इससे रिटायर हो रहे जानवरों को गोद लेने वालो की संख्या भी बढ़ेंगी।

You may also like

MERA DDDD DDD DD