The Sunday Post Special world

जैक मा ने अपने 55 वें जन्मदिन पर लिया रिटायरमेंट 

अलीबाबा समूह के संस्थापक जैक मा ने कंपनी से रिटायरमेंट ले ली है। मंगलवार, 10 सितंबर को जैक मा ने अपना 55 वां जन्मदिन मनाया और इसी दिन कंपनी की कमान 47 वर्षीय डेनियल झांग को सौंप दी है। हालांकि करीब एकसाल तक वह कंपनी से सलाहकार के तौर पर जुड़े रह सकतेहैं। जैक मा ने कहा है कि रिटायरमेंट के बाद वह फिर से पढ़ाने का काम करेंगे।

जैक मा 10 सितंबर को अलीबाबा से रिटायर हो रहे हैं लेकिन वह 2020 की ऐनुअल शेयरहोल्डर मीटिंग तक कंपनी के बोर्ड में बने रहेंगे। वह सलाहकरा के तौर पर कंपनी से जुड़े रहेंगे। जैक मा अपनी 41.7 अरब डॉलर की दौलत को एजुकेशन से जुड़े कामों को प्रमोट करने में लगाएंगे।

जैक मा 1999 में अलीबाबा की शुरुआत करने से पहले इंग्लिश के टीचर हुआ करते थे। चीन में रहने के बावजहुत वह वहा के इंग्लिश टीचर बने। उन्होंने करीब 9 साल तक टूरिस्ट गाइड का काम किया। उन्हें घुमाने के दौरान वह अंग्रेजी बोलते थे। इस काम के लिए वह अपनी साइकिल पर अक्सर 70 मील की दूरी तय किया करते थे। जैक मा अपनी जिंदगी में कम से कम 30 बार अलग-अलग कंपनियों में नौकरी के लिए गए और हर जगह से रिजेक्ट हुए। फिर भी उन्होंने कभी हार नहीं मानी।

इतनी असफलताओं के बाद आज जैक मा दुनिया के 500 अमीरों में से 20वे अंक पे हैं। जैक मा ने पिछले साल कहा था की उन्होंने बिल गेट्स जो की दुनिये के सबसे आमिर आदमी है से बहुत कुछ सीखा है और वह कभी उनके जितना अमीर नहीं बन सकते लेकिन, उनसे पहले रिटायर तो हो ही सकते हैं।

जैक मा ने कभी कहा था कि वह अलीबाबा के बुरे वक़्त में भी कभी अलविदा नहीं कहेंगे लेकिन अमेरिका के साथ चीन के बीच बढ़ते ट्रेड वॉर और आर्थिक सुस्ती के माहौल के बीच जैक मा विदा ले रहे हैं। हाल के अपने कुछ बयानों की वजह से जैक मा काफी विवादों में रहे, फिर वह लंबे वर्क शेड्यूल को लेकर हो या दिन में 6 बार सेक्स करने की सलाह को लेकर हो।

You may also like