world

पोलियो की तरह कोरोना को भी खत्म कर सकता है भारत: WHO

पोलियो की तरह कोरोना को भी खत्म कर सकता है भारत: WHO

भारत में कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है। देश में एक ही दिन में 100 से भी अधिक मामले सामने आए। अब तक कुल 480 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि ये वायरस कितनी तेजी से फैल रहा है। हम सबकी एक छोटी-सी गलती से अनगिनत लोगों की जिंदगी खतरे में पड़ सकती है।

इटली की स्थिति को देखकर हम समझ सकते हैं। इटली के हालात इतने ख़राब है कि वहां लोगों को दफनाने के लिए जगह कम पड़ रहे हैं और मौत के बाद लोग अपनों का चहरा तक नहीं देख पा रहे हैं। पूरी दुनिया कोरोना वायरस की चपेट में है। भारत भी इस वायरस से जंग लड़ रहा है। विश्वभर में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए विश्व स्वास्थय संगठन ने भारत से एक आशावादी उम्मीद जताई है।

दरअसल, सोमवार २३ मार्च को WHO के कार्यकारी निदेशक डॉक्टर माइकल जे रेयान ने कहा कि चीन बहुत बड़ी जनसंख्या वाला देश है इसी तरह भारत भी बड़ी जनसंख्या वाला ही देश है। इसके दूरगामी परिणाम इस बात पर निर्भर करेंगे कि बड़ी जनसंख्या वाले देश इसे लेकर क्या कदम उठाते हैं। यह बहुत जरूरी है कि भारत जन स्वास्थ्य के स्तर पर आक्रामक फैसले लेना जारी रखे।

कोरोना वायरस से निपटने के बारे में भारत से उम्मीद जताते हुए जे रेयान ने कहा, “भारत ने स्मॉल पॉक्स और पोलियो के उन्मूलन में दुनिया का नेतृत्व किया। भारत में जबरदस्त क्षमता है, सभी देशों में जबरदस्त क्षमता है, जब समुदायों और नागरिक समाजों को जुटाया जाता है।”

 

WHO के प्रमुख टेड्रोस अदनोम घेब्रेयसस ने न्यूज ब्रीफिंग के दौरान कहा कि कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आने के बाद उसका आंकड़ा एक लाख तक पहुंचने में 67 दिन लगे। जबकि एक लाख से बढ़कर दो लाख पहुंचने में 11 दिन और दो लाख से तीन लाख तक पहुंचने में सिर्फ चार दिन लगे। इसका मतलब है कि सिर्फ चार दिनों में इसने 1 लाख लोगों को संक्रमित किया है। लेकिन हम असहाय नहीं हैं। हम अभी भी इस महामारी के बढ़ने की रफ्तार काबू कर सकते हैं।

 

कोरोना वायरस के कारण इस समय विश्वभर में 15000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। इस भयावह वायरस की चपेट में 180 से अधिक देश है। वहीं भारत में फिलहाल स्थिति उतनी भयावह नहीं हुई है और भारत सरकार लगातार ठोस कदम उठा रही है।

You may also like