world

चीन के लिए चुनौती बना हांगकांग की जनता का आंदोलन

 पिछले तीन महीने से अशांत चल रहे हांगकांग में अभी भी प्रदर्शन जारी है। इसी बीच हांगकांग में डेमोसिस्टो पार्टी  के नेता जोशुआ वांग को आज गिरफ्तार कर लिया गया है। 22 साल के जोशुआ वांग को ऐसे समय में गिरफ्तार किया गया है जब एक दिन बाद ही शहर में उनकी पार्टी की रैली आयोजित होनी थी। लेकिन पार्टी की इस रैली पर पुलिस ने प्रतिबंध लगा दिया है। इस मामले में डेमोसिस्टो पार्टी की एक अन्य महिला सदस्य इंगेज चाउ को भी गिरफ्तार किया गया है। इसके अलावा विरोध कर रहे एंडी चैन को पुलिस द्वारा 28 अगस्त को हांगकांग अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से गिरफ्तार किया गया था। चैन डेमोसिस्टो पार्टी के सदस्य नहीं हैं। पुलिस द्वारा जानकारी दी गई  कि उन पर दंगे भड़काने और पुलिस पर हमला करने’ का आरोप लगाया गया है।

जोशुआ वांग की पार्टी डेमोसिस्टो ने ट्वीट किया “हमारे महासचिव जोशुआ वांग को आज सुबह करीब साढ़े सात बजे गिरफ्तार कर लिया गया। उन्हें दिन दहाड़े सड़क से जबरन एक मिनीवैन में बैठाया गया। हमारे वकील अब इस मामले को देख रहे हैं।”  हांगकांग में पिछले तीन महीनों से राजनीतिक अशांति का माहौल है। पिछले तीन महीनों से व्यापक एवं शांतिपूर्ण प्रदर्शनों को हिंसा का प्रयोग करके रोका गया जिसके बाद पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प भी हुई थी। माना जा रहा है कि इसके बाद से पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच एक बार फिर झड़प होने की आशंका पैदा हो गई है। क्योंकि प्रदर्शनकारी इस प्रतिबंध के विरोध मेंफिर से  सामने आ सकते हैं। इन प्रदर्शनों की शुरुआत उस समय हुई थी जब शहर की बीजिंग समर्थित सरकार ने चीन में प्रत्यर्पण की अनुमति देने संबंधी एक विधेयक पारित करने की कोशिश की थी लेकिन बाद में इन प्रदर्शनों का मकसद व्यापक हो गया। हांगकांग में अब लोकतंत्र और पुलिस पर बर्बरता के आरोपों की जांच कराए जाने की मांग को लेकर भी प्रदर्शन हो रहे हैं। माना जा रहा है कि इन प्रदर्शनों के संबंध में जून से 850 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।प्रदर्शनकारी हांगकांग की चीफ़ एग्ज़ीक्यूटिव कैरी लैम के इस्तीफ़े की मांग भी कर रहे हैं। साथ ही उनका ये भी कहना है कि प्रदर्शनों के दौरान हिरासत में लिए गए प्रदर्शनकारियों को बिना शर्त रिहा किया जाए।

You may also like