[gtranslate]
world

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ को फांसी की सजा

पकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ  को पाकिस्तान की अदालत ने देशद्रोह के मामले में  मृत्युदंड की सजा सुनाई है।पाकिस्तान के सेनाध्यक्ष रहे मुशर्रफ को मौत की सजा 2007 में आपातकाल लगाने के लिए सुनाई गई है। इस समय मुशर्रफ दुबई में हैं और सेनाध्यक्ष रहते हुए उन्होंने देश में आपातकाल लगाया था।उन्हें पाक की  विशेष अदालत ने देशद्रोह और हाई ट्रिसन केस में फांसी की सजा सुनाई है।  तीन जजों की बेंच ने 2:1 से यह फैसला सुनाया. इस फैसले की डिटेल कॉपी दो दिन  बाद जारी होगी।

इस वक्त दुबई में रह रहे पूर्व पाक राष्ट्रपति और सेनाप्रमुख परवेज मुशर्रफ के खिलाफ 3 नवंबर 2007 को देश को आपातकाल की तरफ ले जाने का आरोप है।  यह केस 2013 से ही चल रहा था. इस बीच 2016 में मुशर्रफ ने पाकिस्तान छोड़ दिया था।  पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ पर फैसला जस्टिस सेठ, जस्टिस नजर अकबर और जस्टिस शाहिद करीम ने सुनाया।

इससे पहले पाकिस्तान के पूर्व सैन्य शासक परवेज मुशर्रफ की राजद्रोह मामले पर रोक की मांग करने वाली याचिका पर लाहौर उच्च न्यायालय ने कल सोमवार (16 दिसंबर) को संघीय सरकार को नोटिस जारी किया था । यह  मामला इस्लामाबाद की विशेष अदालत में चल रहा था । पाक का डॉन अखबार की खबर के मुताबिक मुशर्रफ ने अपनी याचिका में उच्च न्यायालय से अनुरोध किया था  कि विशेष अदालत में उनके खिलाफ लंबित सुनवाई और उनके खिलाफ सभी कार्रवाई को असंवैधानिक घोषित किया जाए।

आज 17 दिसंबर को  तीन सदस्यीय विशेष अदालत ने लंबे समय से चल रहे राजद्रोह के मामले पर फैसला सुना दिया  है। हालांकि, इससे पहले इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने विशेष अदालत को फैसला सुनाने से रोकने का आदेश दिया था। विशेष अदालत ने पिछले महीने फैसला सुरक्षित रख लिया था।

You may also like