[gtranslate]
world

कोरोना के चलते मलेशिया में आपातकाल की घोषणा

इस वक्त कोरोना वायरस एक वैश्विक महामारी की तरह पूरी दुनिया के लिए आफत बना हुआ है। इससे प्रभावित देश बचाव के लिए अपने-अपने स्तर पर कई सावधानियां रख रहे हैं। मलेशिया में तो इमरजेंसी की घोषणा तक कर दी गई है। भी लगाई जा रही है। 11 जनवरी, मंगलवार को मलेशिया के राजा अल-सुल्तान अब्दुल्ला ने प्रधानमंत्री मुइहिद्दीन यसिन के एक अनुरोध पर सहमति मिलने के बाद देश भर में आपातकाल की स्थिति घोषित कर दी है। रिपोर्ट के अनुसार, आपातकाल की स्थिति 1 अगस्त या उससे आगे तक लागू रह सकती है। सुल्तान द्वारा दिए गए बयान के अनुसार यह कोरोना की स्थिति पर ही निर्भर करता है कि यह इमरजेंसी कब तक लागू रह सकती है।

रिपोर्ट के अनुसार अभी भी यह साफ नहीं है कि मलेशिया में लागू की गई इमरजेंसी लोगों की रोजमर्रा की गतिविधियों पर कितना असर डालेगी, परंतु संविधान उस अवधि के वक्त संसद को निलंबित करने की अनुमति प्रदान करता है जो अब प्रधानमंत्री द्वारा सामना की गई राजनीतिक अनिश्चितताओं का अंत कर सकता है।

मलेशिया में कोरोना

गौरतलब है कि दिन दिन मलेशिया में कोरोना का खतरा बढ़ता ही जा रही है। सोमवार को यहां पर संक्रमितों की संख्या 138,00 के पार पहुंच गई है तो वहीं मरनेवालों की संख्या 555 हो गई है। इस वक्त दुुनिया में संक्रमितों की संख्या में अमेरिका पहले नंबर पर है। यहां पर प्रत्येक दिन संक्रमितों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है। यूएस के बाद दूनिया में दूसरे नंबर पर सबसे अधिक संक्रमित देश भारत है। वहीं तीसरे नंबर पर ब्राजील है।

अगर मौत के मामलों में देखा जाए तो दूसरे नंबर पर ब्राजील है। इसी बीच ब्रिटेन से फैले कोरोना के नए स्ट्रेन से भी लोग काफी डरे हुए हैं। कोरोना का यह नया स्ट्रेन धीरे-धीरे अन्य देशों में भी फैलता जा है। यह बताया जा रहा है कि यह नया स्ट्रेन पहले वाले कोरोना से ज्यादा खतरनाक है। यह नया स्ट्रेन अब भारत में भी पहुंच चुका है।

मलेशियाई प्रधानमंत्री ने मांगा विश्वासमत के लिए समय, दिया कोरोना का हवाला

You may also like

MERA DDDD DDD DD