[gtranslate]
world

मध्य अफ्रीकी गणराज्य में लगा आपातकाल

केंद्रीय अफ़्रीकी गणराज्य में आंतरिक या गृह युद्ध जैसी स्थिति बनी हुई जिसका प्रमुख कारन यह है कि देश में हाल ही में हुए राष्ट्रपति चुनाव के परिणामों से जनता काफी नाराज है। यही कारण है कि नव निर्वाचित राष्ट्रपति तौडेरा के खिलाफ लोग जमकर सड़कों पर उतर कर प्रदर्शन कर रहे हैं।

मध्य अफ्रीकी गणराज्य (सीएआर) ने दिसंबर के राष्ट्रपति चुनाव परिणामों को मान्यता देने से इनकार करने वाली विद्रोही ताकतों के बाद आपातकाल की स्थिति घोषित कर दी है। राष्ट्रपति चुनाव 27 दिसंबर को अफ्रीकी राष्ट्र में आयोजित किया गया था। देश की संवैधानिक परिषद की अदालत ने फ्रैंकोइस बोज़ीज़ को “नैतिकता के आधार” पर चलने से अमान्य कर दिया, और पहले दौर में 53.9 प्रतिशत के साथ चुनाव में राष्ट्रपति फॉस्टिन-अर्चेब तौडेरा की जीत की पुष्टि की।

वही इससे पहले महीने में, गठबंधन के लिए पैट्रियट्स ऑफ चेंज, जिसमें बोज़ीज़ का समर्थन करने वाले विभिन्न सशस्त्र समूह शामिल थे, उसने बंगी पर हमला किया। हमले को शहर को देश के बाकी हिस्सों से अलग करने के प्रयास में किया गया था।

राष्ट्रीय रेडियो पर मोकपेम ने कहा, “आपातकाल की स्थिति को आधी रात से शुरू होने वाले 15 दिनों के लिए राष्ट्रव्यापी घोषित किया जाता है। चुनाव से पहले कार में Bozize और Touadera के वफादारों का समर्थन करने वाले विद्रोही गुटों के बीच झड़पें हुईं। 8 साल से यह देश गृह युद्ध की स्थिति झेल रहा है।  देश में असुरक्षा माहौल के कारण राष्ट्रपति चुनाव में मतदान कम होने के बावजूद  संवैधानिक अदालत  द्वारा तौडेरा को  विजेता घोषित किया गया।  इसके बाद 13 जनवरी को  केंद्रीय अफ़्रीकी  गणराज्य में संयुक्त राष्ट्रमिशन MINUSCA द्वारा विद्रोह कर दिया गया | इसके बाद विद्रोहियों ने एक साथ दो हमले कर दिए। हालाँकि  जिसको प्रशासन ने समय रहते हुए कंट्रोल कर लिया।

You may also like

MERA DDDD DDD DD