[gtranslate]
world

कनाडा ने चीन-अमेरिका के बीच हुए ट्रेड समझौते पर रखी शर्त

अमेरिका और चीन के बीच हुई व्यापार संधि को लेकर अमेरिकी सहयोगी कनाडा द्वारा इस समझौते पर तब तक हस्ताक्षर न करने को कहा गया है जब तक कि  चीन कनाडाई नागरिकों को रिहा नहीं कर देता है। कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन त्रूदो द्वारा अमेरिका के सामने शर्त रखी गई है कि वह कनाडा के दो नागरिकों की रिहाई के बाद ही ट्रेड समझौते को अंतिम रूप दे।
पिछले साल चीन द्वारा कनाडा के दो नागरिकों को जासूसी के आरोप में बंदी बना लिया गया था। अधिकांश देश यह मानते चीन हैं कि क़ानूनी प्रणाली पारदर्शी नहीं है। चीन द्वारा कनाडा के पूर्व राजनयिक माइकल कोवरिंग और कारोबारी माइकल स्पावर को जासूसी के आरोप में दिसंबर 2018 को गिरफ्तार किया गया था।
कनाडा इसे प्रतिशोध की कार्रवाई मानता है क्योंकि इसके महज 9 दिन पहले कनाडा ने चीन की हुवावे कंपनी की सीएफओ मेंग वांझोऊ को वैंकूवर से गिरफ्तार किया था। मेंग ईरान पर लगे प्रतिबंधों के उल्लंघन के आरोप में अमेरिका में वांछित थी।

त्रूदो से जब अमेरिका-चीन व्यापार संधि से समाधान पर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘ऐसी उम्मीद तो है, लेकिन अमेरिका को चाहिए कि वह चीन के साथ अंतिम समझौते पर तब तक हस्ताक्षर न करे जब तक वह कनाडाई नागरिकों की समस्या का समाधान नहीं कर दे।’

You may also like

MERA DDDD DDD DD