[gtranslate]
world

बोरिस जॉनसन पर लगे यौन शोषण के आरोप 

करीब दो महीने पहले यूरोपीय संघ  से अलग होने के मुद्दे पर ब्रिटेन में जारी राजनीतिक अनिश्चितता के बीच बोरिस जॉनसन  ने  कंजर्वेटिव पार्टी की नेतृत्व में जीत हासिल की और वह देश के नए प्रधानमंत्री चुने  गए। उन्होंने 31 अक्टूबर की समयसीमा तक ‘‘ब्रेग्जिट को संभव कर दिखाने’’ का वायदा किया। हाल ही में  ब्रिटिश के प्रधानमंत्री जॉन्सन पर यौन शोषण के आरोप लगे हैं। यह आरोप ऐसे समय में लगे हैं जब जॉनसन की कांजवेर्टिव पार्टी का सालाना सम्मेलन होने वाला है और ब्रिटिश सरकार 31 अक्टूबर को होने वाले इस सम्मेलन की तैयारियों में जुटी है।

ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के कार्यालय ने उन आरोपों को ख़ारिज किया है जो उन्होंने बीस साल पहले दो महिलाओं का यौन उत्पीड़न किया था। संडे टाइम्स की पत्रकार शार्लोट एडवडर्स ने एक लेख में लिखा है कि बोरिस जॉनसन ने एक पार्टी के दौरान एक महिला को गलत तरीके से छुआ था। और उसी पार्टी में रात्रिभोज के बाद एक अन्य महिला के साथ ऐसा ही बर्ताव किया था। उस महिला का भी यही कहना है। कि बोरिस जॉनसन ने उन्हें गलत तरीके से स्पर्श किया था।

एक क्लिक में पढ़ें पूरी खबर :प्रधानमंत्री पद के दावेदार बोरिस जॉनसन विवादो में घिरे

एडवडर्स के मुताबिक उस समय वह एक मैगजीन का संपादन कर रही थी। और उस पार्टी का आयोजन भी उसी मैगजीन ने किया था। बोरिस जॉनसन उस समय लंदन के मेयर थे। अब प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक बयान जारी कर इन आरोपों को ख़ारिज करार दिया है। जबकि एडवडर्स अपनी बात पर कायम हैं। और उन्होंने एक ट्वीट कर खा है”कि यदि प्रधानमंत्री को घटना ठीक से याद नहीं है तो उनकी तुलना मेरी याददाश्त बेहतर है। “

You may also like

MERA DDDD DDD DD