world

नेतन्याहू हारे चुनाव, बैनी गैंज़ होंगे इजरायल के नए प्रधानमंत्री

बिन्यामिन नेतन्याहू हारे चुनाव, बैनी गैंज़ होंगे इजरायल के नए प्रधानमंत्री

इजराइल में सालभर से कम समय में तीन बार चुनाव हो चुके हैं। 2 मार्च को तीसरी बार चुनाव हुए में किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिल पाया है। ऐसे में वर्तमान प्रधानमंत्री बिन्यामिन नेतन्याहू के मुख्य राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी बैनी गैंज़ को नई गठबंधन सरकार बनाने का मौका दिया गया है। बिन्यामिन नेतन्याहू की लिकुड पार्टी की तुलना में बैनी गैंज़ की ब्लू एंड वाइट पार्टी ने अधिक सीटें जीती हैं।

ये राजनीतिक घटनाक्रम ऐसे समय में हुआ है। जब इजराइल कोरोना वायरस के संक्रमण की समस्या से संघर्ष कर रहा है। दस साल से सत्ता पर काबिज नेतन्याहू के खिलाफ भ्रष्टाचार के तीन मामले दर्ज हैं। जिन पर जल्द सुनवाई शुरू होनी है। हालांकि, नेतन्याहू भ्रष्टाचार के इनकार करते रहे हैं। धोखाधड़ी और रिश्वत के तीन अलग-अलग मामलों में मंगलवार को बिन्यामिन नेतन्याहू की पेशी होनी थी पर कोरोना वायरस के मद्देनजर इस मामले की सुनवाई 24 मई तक टाल दी गई।

इस बार लिकुड पार्टी को 36 सीटें मिली हैं। दक्षिणपंथी गठबंधन और धार्मिक पार्टियों को 22 सीटे मिली हैं। लेकिन 120 सदस्यों वाली इजराइली संसद नेसेट में नेतन्याहू की पार्टी बहुमत के आंकड़े से तीन सदस्य पीछे रह गई है। वहीं बैनी गैंज़ की ब्लू एंड वाइट पार्टी को 33 सीटें हासिल हुई हैं।

अरब अल्पसंख्यकों की नुमाइंदगी करने वाली पार्टी जॉइंट लिस्ट के खाते में 15 सीटें गई हैं। मध्यमार्गी वामपंथी पार्टी लेबर गेशर मेरेट्ज और राष्ट्रवादी इजराइल बैतेनु पार्टी, दोनों ही ने सात-सात सीटें जीती हैं। बैनी गैंज इससे पहले इजरायली सेना प्रमुख रह चुके हैं और अब उन्होंने जल्द-से-जल्द एक राष्ट्रीय एकता सरकार के गठन का वादा किया है।

अब तक 61 सांसदों ने प्रधानमंत्री पद के लिए बैनी गैंज़ का समर्थन किया है। जबकि नेतन्याहू 58 सांसदों का समर्थन ही जुटा पाने में विफल रहे। राष्ट्रपति रिवलिन ने औपचारिक तौर पर ब्लू एंड वाइट पार्टी को बहुमत मिलने की घोषणा की है। दुनियाभर में कोरोना वायरस का खतरा है जिसको देखते हुए राष्ट्रपति ने बैनी गैंज़ और सभी चुने हुए सांसदों से अपील की है कि वह जल्द ही नई सरकार का गठन करें। उन्होंने सबको चेताते हुए कहा, “ऐसे संकट के समय में चौथा चुनाव नामुमकिन है।”

बैनी गैंज़ के पास नई सरकार के गठन के लिए 28 दिनों का समय दिया गया है और वे इसके बाद 14 दिनों का समय की और मांग भी कर सकते हैं। चुनाव में बहुमत मिलने के बाद उन्होंने कहा, “मैं सभी राजनीतिक दलों के मतदाताओं और इसराइल के हर नागरिक के लिए काम करूंगा। बंटवारे और नफ़रत के वायरस के साथ-साथ मैं कोरोना वायरस से इजराइली समाज को बचाने के लिए चल रही कोशिशों की अगुआई करूंगा। ये सामान्य समय नहीं है. नेताओं को निजी स्वार्थ छोड़ देना चाहिए।” बैनी गैंज़ को बहुमत मिलना नेतन्याहू के लिए बहुत बड़ा झटका माना जा रहा है।

You may also like