[gtranslate]
world

क्रिप्टो करेन्सी पर तुर्की में लगा बैन, बिटकॉइन बाजार सदमें में

बिटकॉइन जो दुनिया की सबसे पुरानी क्रिप्टो करेन्सी है उसकी कीमत में 16 अप्रैल, शुक्रवार को 4 फीसदी से अधिक की गिरावट आ गयी। इसी कारण से तुर्की के केंद्रीय बैंक ने देश में खरीद के लिए क्रिप्टो करेंसीज और क्रीप्टो एसेस्ट्स के इस्तेमाल पर रोक लगा दी है।

तुर्की के इस फैसले के बाद बिटकॉइन की कीमत 4.6 फीसदी की गिरावट के साथ 60,333 पर पहुंच गई है। इस गिरावट को लेकर तुर्की का कहना है कि इससे लोगों को भारी नुकसान होगा और अब इसमें ट्रांजेक्शन रिस्क भी है।हालांकि तुर्की के केंद्रीय बैंक के इस फैसले से क्रीप्टो मार्केट में विश्वसनीयता को लेकर भारी कमी आएगी, हो सकता है कुछ समय के लिए यह मार्किट रुक भी जाए।

बिटकॉइन के साथ-साथ इथेरियम और एक्सआरपी में भी 6 से 12 प्रतिशत की गिरावट आई है। तुर्की में इन सबके चलते क्रिप्टो करेन्सी को लेकर चर्चा काफी गरम है ,वहां इसके बैन को लेकर विचार किया जा रहा है। देश-विदेश के लगभग सभी इन्वेस्टर्स इस गिरावट को लेकर अपनी-अपनी चिंता जाहिर कर रहे हैं। ऐसा नहीं है यह सब अचानक हो रहा है।इससे पहले भी क्रिप्टो करेन्सी को लेकर कई दाव आजमाए गए हैं। पिछले महीने तुर्की में महंगाई 16 प्रतिशत के स्तर पर पहुंच गई थी।

यह भी पढ़े :भारत सरकार ‘क्रिप्टो करेंसी’ को लेकर क्या योजना बना रही है?

उधर बिटकॉइन की कीमत हाल ही में लगभग 64,600 डॉलर तक पहुंच गई थी। भारतीय रुपयों के हिसाब से समझा जाए तो फिलहाल एक बिटकॉइन करीब 48.5 लाख रुपये तक हो गयी थी। भारत में बड़े निवेशकों और खुदरा निवेशकों के बिटकॉइन की ओर रुख करने से यह उछाल आया है।

तुर्की में क्रिप्टो करेंसी बैन

तुर्की ने अपनी मुद्रा लीरा में गिरावट के बीच दुनिया में तेजी से लोकप्रिय हो रहे क्रिप्टोकरेंसी मार्केट पर रोक लगा दी है। तुर्की की केंद्रीय बैंक ने ट्रांजेक्शन रिस्क और भारी नुकसान का खतरा बताते हुए देश में खरीद के लिए क्रिप्टोकरेंसी और क्रिप्टो एसेट्स पर रोक लगा दी है। तुर्की के इस बैन का असर क्रिप्टो मार्केट पर दिखने लगा है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD