world

मालदीव के बाद , जर्मनी की पाक को दो टूक, कहा- कश्मीर भारत का आंतरिक मामला

कश्मीर मुद्दे पर चारों तरफ से बेइज्जत होने के बाद पाकिस्तान अब जर्मनी की शरण में जा पहुंचा है।जम्मू और कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है।  दुनिया के अलग-अलग देशों के सामने वो कश्मीर का मुद्दा उठा रहा है, लेकिन हर जगह उसे मात ही मिल रही है. अब मालदीव ने पाकिस्तान को झटका देते हुए कहा है कि जम्मू कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है।

मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद और पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के बीच फोन पर बातहुई।  इस दौरान अब्दुल्ला शाहिद ने “कहा कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने का फैसला भारत का आंतरिक मामला है” “उन्होंने आगे कहा कि पाकिस्तान और भारत दोनों मालदीव के करीबी दोस्त और द्विपक्षीय साझेदार हैं, उन्होंने शांतिपूर्ण साधनों के माध्यम से मतभेदों को सुलझाने के महत्व पर जोर दिया।

अब जर्मनी की शरण में पाक 

कश्मीर मुद्दे पर चारों तरफ से बेइज्जत होने के बाद पाकिस्तान अब जर्मनी की शरण में जा पहुंचा है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल से कश्मीर मुद्दे पर फोन पर बातचीत की। बातचीत के दौरान इमरान ने कहा कि भारत की ओर से जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को खत्म करने से  क्षेत्र में शांति एवं सुरक्षा पर गंभीर प्रभाव पड़ेगा। इसलिए अंतरराष्ट्रीय समुदाय की तत्काल कार्रवाई की जिम्मेदारी है। जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने कश्मीर मामले पर “पाकिस्तान से कहा कि उसे बयानबाजी से बचना चाहिए और भारत के साथ द्विपक्षीय वार्ता करनी चाहिए।” श्री एंजेला के प्रवक्ता स्टेफेन सैबर्ट ने एक बयान में” कहा  कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से फोन पर बातचीत के दौरान सुश्री एंजेला ने अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा के लिए क्षेत्र में शांति और स्थिरता के महत्त्व का पर जोर देते हुए इमरान को फालतू की बयानबाजी से बचने को कहा है।” पाकिस्तान ने कई अंतरराष्ट्रीय मंचों पर भी कश्मीर मुद्दे को उठाने की कोशिश की. लेकिन पाकिस्तान को वहां सफलता नहीं मिल पाई है।

You may also like