world

फेसबुक पोस्ट से भड़की सांप्रदायिक हिंसा

श्रीलंका सरकार ने देशभर में कर्फ्यू लगा दिया क्योंकि देश में बड़ी तेजी से सांप्रदायिक हिंसा फैल रही है। यह हिंसा ईस्टर के मौके पर हुए बम धमाकों के बाद से फैल रही है जिसमें लगभग 260 लोग मारे गए थे। पुलिस प्रवक्ता का कहना है कि रात के नौ बजे से सुबह के चार बजे तक देशभर में कर्फ्यू लगा दिया गया है।इसी बीच हिंसा में एक 45 साल के शख्स की मौत होने की खबर आई है।
भीड़ ने उस पर तेज हथियार से हमला किया था। मृतक बढ़ई की दुकान चलाता था। सांप्रदायिक हिंसा के कारण हुई यह पहली मौत है।इससे पहले दिन में पुलिस ने चार शहरों कुलियापिटियाए हेट्टीपोलाए बिंगिरिया और दुम्मालासुरिया से कर्फ्यू हटाने के कुछ घंटों बाद ही दोबारा लगा दिया था। इन क्षेत्रों में सांप्रदायिक हिंसा हुई थी। बाद में इसे पूरे उत्तर पश्चिमी प्रांत तक बढ़ा दिया गया क्योंकि हिंसा लगातार फैल रही थी।
प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे ने हिंसा के बाद लोगों से शांत रहने की अपील की है। खासतौर से कुरुनेगला जिले मेंए जहां मुस्लिमों को निशाना बनाया जा रहा है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि वह झूठी सूचनाओं पर यकीन न करें ।विक्रमसिंघे ने कहाए श्मैं सभी नागरिकों से अपील करता हूं कि वह शांत रहें और झूठी सूचनाओं पर यकीन न करें। सुरक्षाबल आतंकियों को पकड़ने और देश में सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए अथक प्रयास कर रहे हैं। लेकिन हर बार यहां होने वाली नागरिक अशांति के कारण उनका काम बढ़ रहा है और इससे जांच पर असर पड़ रहा है।
श्रीलंका सरकार ने सोशल मीडिया नेटवर्क और मैसेजिंग ऐपए फेसबुक और व्हाट्सएप पर अस्थायी रूप से प्रतिबंध लगा दिया। ईस्टर बम धमाकों के बाद यहां मस्जिदों और मुस्लिमों द्वारा चलाई जा रही दुकान आदि पर हमले हुए हैं। देश में हिंसा ना फैलेए इस बात का ध्यान रखते हुए सोशल मीडिया पर प्रतिबंध लगाया गया है। यह प्रतिबंध ऐसे समय पर लगाया गया है जब श्रीलंका पुलिस ने देश के पश्चिमी तटीय शहर चिलॉ में कर्फ्यू लगा दिया है क्योंकि वहां एक भीड़ ने मस्जिद पर और मुस्लिमों की दुकान पर हमला किया। यह विवाद मुस्लिम दुकान के मालिक के एक फेसबुक पोस्ट के बाद हुआ।
अधिकारियों का कहना है कि उन्होंने विवाद का कारण बने फेसबुक पोस्ट करने वाले शख्स को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की पहचान 38 वर्षीय अब्दुल हमीद मोहम्मद हसमर के तौर पर हुई है। इस पोस्ट में आरोपी व्यक्ति ने लिखा थाए श्एक दिन तुम रोओगे।श् लोगों का कहना है कि इसी पोस्ट के कारण हिंसा हुई है।
स्थानीय लोगों ने तीन मस्जिदों पर पत्थर फेंके थे। पत्थरबाजी से पहले लोगों ने एक व्यक्ति के साथ मारपीट भी की थी।
श्रीलंका में 21 अप्रैल को ईस्टर के दिन हुए सिलसिलेवार धमाकों में 251 लोगों की जान गई थी। मुस्लिम समुदाय का कहना है कि तभी से पूरे देश में मुस्लिम नागरिकों को प्रताड़ित किए जाने की दर्जनों शिकायतें मिल चुकी हैं।सेना प्रमुख महेश सेनानायके ने कहा कि कुरुनेगाला जिले में ज्यादा हिंसक घटनाएं हुई हैं। कर्फ्यू का उल्लंघन करने वालों से सख्ती से निपटने के आदेश दिए गए हैं। अगर कोई आदेशों का उल्लंघन करेगा तो इससे निपटने के लिए जवानों को शूट एट साइट के ऑर्डर दे दिए गए हैं। भड़काऊ फेसबुक पोस्ट लिखने वाले व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया है।

1 Comment
  1. Miabup 1 month ago
    Reply

    [url=http://prednisone911.com/]prednisone[/url] [url=http://buydoxycyclinewithoutprescription.com/]doxycycline no prescription[/url] [url=http://lisinopril0.com/]lisinopril 5 mg[/url] [url=http://buylasixfurosemide.com/]furosemide 40mg[/url] [url=http://ventolinhfainhalers.com/]buy ventolin inhaler online[/url]

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may also like