[gtranslate]
world

अर्जेंटीना :15 साल बाद मिली जीत का जश्न देख न सकी डोरा कोलडस्की

बीते 31 दिसम्बर को अर्जेंटीना की सीनेट में गर्भपात को वैध बनाने वाला एक बिल पारित हो गया। अर्जेंटीना की महिलाएं इस अधिकार के लिए दशकों से आंदोलन करती रही थीं। यहां अब तक सिर्फ दुष्कर्म और मां के जीवन पर खतरे के मामलों में ही गर्भपात को कानूनी रूप से अनुमति थी। लेकिन अब देश में 14 सप्ताह तक स्वैच्छिक गर्भपात की अनुमति होगी।

वो महिलाएं जिन्होंने अपना सम्पूर्ण जीवन इस लड़ाई को लड़ने के लिए लगा दिया था उनमें एक नाम था डोरा कोल्डस्की। वो एक सक्रिय सामाजिक कार्यकर्ता थीं साथ ही एक वकील भी थीं जो महिला अधिकारों के प्रचार-प्रसार के लिए बड़े-बड़े अभियानों के माध्यम से जनता के बीच जागरूकता फैलाने के लिए कार्य करती रहती थीं।

लेकिन वर्ष 2009 में उनका निधन हो गया था। आज जब ये लड़ाई अपने मुकाम पर है और इस पर जब अर्जेंटीना की सरकार ने मुहर लगा दी है तो डोरा यह सुनहरा पल देखने के लिए हम सबके बीच नहीं हैं। पर है तो उनकी हिम्मत और इस लड़ाई को आगे बढ़ा कर पूरे देश के पटल के सामने लाने का उनका जज्बा।  अब उनकी पोती रोसना फंजुल इस कानूनी अभियान की प्रमुख सदस्य हैं।

अर्जेंटीना में गर्भपात को कानूनी बनाने के लिए वहां की महिलाओं ने लगभग 15 सालों की   लड़ाई लड़ी। अर्जेंटीना में अब तक महिलाओं और उन लोगों को दंडित किया जाता था, जो उन्हें गर्भपात करने में मदद करते थे। केवल दुष्कर्म या मां के ऊपर खतरे में इसकी अनुमति थी। हालांकि कुछ प्रांतों में इनका भी पालन न करने के आरोप लगते रहे हैं। 2018 में यह बिल निचले सदन में पारित हो चुका था, लेकिन सीनेट ने इसे मंजूरी नहीं दी। इस बार वाम दल की केंद्र सरकार इसके समर्थन में रही और सीनेट ने इसे मंजूरी दे दी।

हर साल होते हैं लाखों अवैध गर्भपात

सरकार का कहना है कि करीब 4.4 करोड़ की आबादी वाले अर्जेंटीना में एक साल के भीतर 3.7 लाख से 5.2 लाख अवैध गर्भपात होते हैं। देश के भीतर गर्भपात के पुराने कानून का जबरदस्त विरोध हो रहा था। कोरोना महामारी को रोकने के उपायों के बावजूद, गर्भपात के समर्थक और विरोधी, दोनों ही ने संसद के सामने प्रदर्शन करते रहे हैं।

हर अवांछित बच्चा ईश्वर का

अर्जेंटीनी मूल के पोप फ्रांसिस ने गर्भपात को वैध करने पर विरोध जताया था। सीनेट में बहस से पहले पोप ने ट्वीट कर कहा था, ईश्वर के बेटे ने भी ये बताने के लिए अवांछित ही जन्म लिया था कि हर अवांछित बच्चा ईश्वर का है।

अब तक अर्जेंटीना में गर्भपात अवैध था। 1921 में सरकार ने दो अपवादों को लागू किया था जो रेप के मामले में गर्भधारण के 24 वें सप्ताह से पहले या जब गर्भवती महिला का जीवन जोखिम में हो तो गर्भपात की अनुमति देता है। अर्जेंटीना इस क्षेत्र का चौथा देश बन गया जहां गर्भपात कानूनी है।

अधिकारियों का अनुमान है कि हर साल 500,000 से अधिक गर्भपात असुरक्षित और अवैध परिस्थितियों में किए जाते हैं और लगभग 40,000 महिलाओं को असुरक्षित गर्भपात करने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया जाता है। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, 1983 में अर्जेंटीना में लोकतंत्र की वापसी के बाद से 3,000 से अधिक महिलाओं की मृत्यु असुरक्षित तरीके से गर्भपात कराने की स्थिति में हो गई है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD