sport Uttarakhand

उत्तराखंड ने लगातार जीता चौथा मैच

विजय हजारे ट्रॉफी में उत्तराखंड की टीम ने अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए मेघालय की टीम को आठ विकेट से करारी शिकस्त दी। वैभव पंवार की शानदार गेंदबाजी की बदौलत उत्तराखंड ने मेघालय को 41.2 ओवर में 141 रन पर सिमटा दिया। उसके बाद विनीत सक्सेना की अर्द्धशतकीय पारी के दम पर उत्तराखंड ने 31 ओवर में दो विकेट खोकर आसानी से लक्ष्य हासिल कर लिया।

विजय हजारे ट्रॉफी के अपने पहले मुकाबले में उत्तराखंड की टीम को भले शिकस्त झेलनी पड़ी हो लेकिन यह दिन प्रदेश के हर क्रिकेट प्रेमी के जेहन में लंबे समय तक याद रहेगा। इस दिन का सपना प्रदेश के लाखों लोगों ने देखा था। हालांकि चारों एसोसिएशनों के झगड़े के चलते राज्य के लिए यह शुभ मौका 18 साल बाद आया है।
राज्य गठन के बाद से ही प्रदेश को बीसीसीआई की मान्यता दिलाने के प्रयास हुए। हालांकि राज्य में कार्यरत चारों क्रिकेट एसोसिएशनों ने आपसी झगड़े के चलते कभी इस ओर नहीं सोचा।

पिछले डेढ़ सालों के दौरान मान्यता के प्रयासों में तेजी आई। मौजूदा खेल मंत्री अरविंद पांडेय ने व्यक्तिगत तौर पर दिलचस्पी लेते हुए सभी संघों को एकजुट करने का प्रयास किया। हालांकि कुछ संघ पदाधिकारियों की हठधर्मिता के चलते उनका प्रयास सफल नहीं हो पाया। इसी दौरान सुप्रीम कोर्ट के हस्तक्षेप के चलते उत्तराखंड समेत कई राज्यों को पहली बार घरेलू सत्र की प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेने का मौका मिला है।

राज्य को बीसीसीआई की मान्यता न होने के चलते क्रिकेटरों को दूसरे राज्यों की खाक छाननी पड़ी थी । प्रदेश की प्रतिभाओं ने अपने शानदार खेल से उन राज्यों की टीमों में भी जगह बनाई। प्रदेश के कई खिलाड़ी भारतीय टीम में भी जगह बनाने में कामयाब हुए। इसके अलावा कई राज्यों की टीमों में भी उत्तराखंड के खिलाड़ी शामिल हैं।पहली बार मैदान में उतर रही उत्तराखंड की टीम को कई बीसीसीआई अधिकारियों ने भी शुभकामनाएं दी। भारतीय टीम के मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने भी खिलाड़ियों और टीम प्रबंधन को शुभकामनाएं दी। वहीं, क्रिकेट ऑपरेशन जीएम सबा करीम ने भी खिलाड़ियों से बातचीत की।

उत्तराखण्ड की टीम ने अपने पांचवे मैच में वडोदरा, गुजरात के मोतीबाग क्रिकेट स्टेडियम में टॉस जीतकर मेघालय को पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। उत्तराखंड के गेंदबाजों ने कप्तान के फैसले को सही साबित करते हुए नियमित अंतराल पर विकेट चटकाए। मेघालय की टीम ज्यादा देर नहीं टिक पाई और 141 रन पर सिमट गई। वैभव पंवार ने शानदार गेंदबाजी करते हुए तीन विकेट चटकाए। दीपक धपोला व शुभम सौडियाल ने दो-दो और सनी राणा, मलोलन रंगराजन व मयंक मिश्रा ने एक-एक विकेट लिए ।

छोटे लक्ष्य का पीछा करने उतरे उत्तराखंड के ओपनर करनवीर कौशल और विनीत सक्सेना ने सधी हुई शुरूआत की। हालांकि करनवीर 15रन बनाकर आउट होकर पवेलियन लौट गए। इसके बाद मैदान पर उतरे आर्य सेठी ने विनीत सक्सेना का अच्छा साथ निभाया और टीम का स्कोर 82 तक पहुंचाया। आर्य सेठी 25 रन बनाकर एलबीडब्ल्यू आउट हुए। विनीत ने एक छोर शानदार बल्लेबाजी करते नाबाद 66 रनों की पारी खेली। वैभव पंवार ने बल्लेबाजी में भी हाथ दिखाए और नाबाद 30 रन बनाकर टीम को जीत दिला दी। गुरिंदर सिंह ने मेघालय के लिए दो विकेट चटकाए।

लगातार चौथी जीत के साथ उत्तराखंड ने ग्रुप की अंक तालिका में अपना दूसरा स्थान बरकरार रखा है। छह मुकाबलों में पांच जीत के साथ बिहार पहले और पांच मैच में चार जीत के साथ उत्तराखंड दूसरे स्थान पर है। उत्तराखंड को अपने पहले मुकाबले में बिहार के हाथों हार झेलनी पड़ी थी। उत्तराखंड का अगला मुकाबला कल यानि 2 अक्टूबर को मिजोरम से होगा। मोतीबाग क्रिकेट स्टेडियम (वडोदरा, गुजरात) में मैच सुबह नौ बजे से शुरू होगा। उत्तराखंड टीम इस प्रतियोगिता में अपना छठा मुकाबला खेलने के लिए उतरेगी।

You may also like