[gtranslate]
Uttarakhand

स्वास्थ्य विभाग में सुधार की मांग को लेकर एक दिवसीय उपवास

मुख्यमंत्री नहीं संभाल सकते स्वास्थ्य महकमा तो इस्तीफा दें: इंदिरा ह्रदयेश

हल्द्वानी। उत्तराखंड विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष इंदिरा ह्रदयेश ने प्रदेश में कोरोना काल में स्वास्थ्य विभाग पर पूरी तरह लापरवाह होने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि जब मुख्यमंत्री स्वास्थ्य महकमा नहीं संभाल पा रहे हैं तो उन्हें इस्तीफा देकर बाहर आ जाना चाहिए।

कोरोना काल में राज्य में बिगड़ती स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हरदेश ने हल्द्वानी के बुध पार्क में एक दिवसीय उपवास कार्यक्रम रखकर धरना प्रदर्शन किया। राज्य में बदहाल हो रही स्वास्थ्य व्यवस्था को संभालने का जिम्मा स्वयं मुख्यमंत्री के पास है, क्योंकि स्वास्थ्य विभाग मुख्यमंत्री खुद देख रहे हैं। लिहाजा इंदिरा ह्रदयेश ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री से स्वास्थ्य महकमा नहीं संभल रहा है तो गद्दी छोड़ कर जाएं, क्योंकि सरकार की नाकामी का खामियाजा आम गरीब लोगों को अपनी जान देकर भुगतना पड़ रहा है। कुमाऊ का सबसे बड़ा सुशीला तिवारी अस्पताल जिसे पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी ने बेहतर स्वास्थ्य के सपने के साथ बनाया था आज उस अस्पताल में जाने से लोग डर रहे हैं। हालात इतने बदले बदतर हैं कि अस्पतालों में सफाई कर्मचारी तक नहीं कोरोना संक्रमण के इस दौर में मरीजों को उचित उपचार तो दूर की बात उचित व्यवहार तक नहीं हो रहा है। इंदिरा हृदयेश ने कहा कि यह राज्य सरकार प्रदेश की जनता को बेहतर स्वास्थ्य देने में पूरी तरह से विफल और नाकाम रही है। लिहाजा आज सांकेतिक रूप से कांग्रेस ने यह प्रदर्शन किया है, आगे और उग्र आंदोलन किए जाएंगे। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि भाजपा को कोरोना महामारी से कोई लेना नहीं है। वह तो नाराज विधायकों को खुश करने में व्यस्त हैं। पाटीॅ में नेताओं की कमी हो रबी है। इसलिए कुंवर प्रणव सिंह चैपिंयन का फूल माला से स्वागत किया गया। भाजपा में दुबारा शामिल होते ही फिर चैम्पियन ने हरिद्वार में अपने क्षेत्र में पहुंच कर हथियारों के साथ प्रदर्शन किया। धरने पर जिला अध्यक्ष सतीश नैनवाल, महानगर अध्यक्ष राहुल छिम्वाल समेत कई पदाधिकारी बैठे।

You may also like

MERA DDDD DDD DD