[gtranslate]
Uttarakhand

पोड़ी गढ़वाल के श्रीनगर मेडिकल कॉलेज में भी होगी कोरोना संक्रिमित की जांच

श्रीनगर – देश में कोरोना पॉजेटिव की संख्या बढती जा रही है इसी क्रम में उत्तराखण्ड में भी कोरोना वायरस संक्रमित और संदिग्ध मरीजों की जांच अब श्रीनगर मेडिकल कॉलेज में भी हो सकेंगी. इसके जिसके लिए पीजीआई चढ़ीगढ़ एवं आईसीएमआर से श्रीनगर मेडिकल कॉलेज की कोरोना लैब में जांच हेतु मंजूरी मिल गई है. जिससे अब गढ़वाल क्षेत्र से संदिग्ध व्यक्ति की कोरोना सैंपल जांच श्रीनगर मेडिकल कॉलेज में हो पायेगी. इससे प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के समय और बजट की बचत हो पायेगी. इससे पहले कोरोना संक्रमित और संदिग्ध मरीजों की जांच हल्द्वानी और ऋषिकेश एवं दून मेडिकल कॉलेज देहरादून में हो रही थी.
वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली राजकीय मेडिकल कॉलेज श्रीनगर के प्राचार्य डॉ. सीएमएस रावत ने बताया कि मेडिकल कॉलेज में स्थापित कोरोना जांच लैब में कोरोना जांच सैंपल हेतु मंजूरी मिल गई है। अब मेडिकल कॉलेज की लैब में ही कोरोना सैंपल की जांच हो पायेगी। आपको बताते चले कि कुछ समय पहले श्रीनगर मेडिकल कॉलेज से माइक्रोबॉयोलॉजी की विभागाध्यक्ष के नेतृत्व में पांच सदस्यीय टीम प्रशिक्षण हेतु पीजीआई चंडीगढ़ गई थी। टीम के प्रशिक्षण लेकर लौटने के बाद उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने श्रीनगर मेडिकल कॉलेज पहुंचकर जांच लैब का विविधत उद्घाटन किया था।
वीर चन्द्र सिंह मेडिकल कॉलेज श्रीनगर के प्राचार्य सीएमएस रावत ने माइक्रोबायोलॉजी विभाग के समस्त डॉक्टर एवं कर्मचारियों को कोविड-19 की जांच हेतु अनुमति मिलने की बधाई दी है .
वीर चन्द्र सिंह मेडिकल कॉलेज श्रीनगर के माइक्रोबायोलॉजी विभाग को कोविड-19 की जांच हेतु अनुमति मिलने पर उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धनसिंह रावत को बधाई दी . आपको बताते चले कि अपनी विधानसभा क्षेत्र में शिक्षा के स्तर को बढ़ावा देने हेतु पहले स्कूलों को चटाई मुक्त करने और अब स्वास्थ्य के क्षेत्र में गढ़वाल क्षेत्र से पलायन को रोकने हेतु उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धनसिंह रावत लगातार प्रयासरत है.
उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धनसिंह रावत ने गढ़वाल क्षेत्र के श्रीनगर मेडिकल कॉलेज में बराबर डॉक्टर, कर्मचारी एवं उपकरण हेतु सभी आवश्यकताओं की पूर्ति करने का प्रयास किया जा रहा है जिसमें एक कदम और आगे बढ़ते हुए अब किसी को भी कोविड-19 की जांच हेतु गढ़वाल क्षेत्र से बाहर जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी क्योंकि अब श्रीनगर मेडिकल कॉलेज में ही इसकी जांच हो जाएगी, जिसकी की अब भारत सरकार से अनुमति भी मिल गई है . साथ ही उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि सरकार को बराबर आम जनमानस के स्वास्थ्य की चिंता है लेकिन प्रत्येक व्यक्ति भी अपने घरों में रहकर स्वयं का , अपनों का एवं सरकार का सहयोग करे जब आवश्यक हो तभी सरकार एवं शासन /प्रशासन के निर्देशानुसार ही घरों से बाहर निकले.

You may also like

MERA DDDD DDD DD