[gtranslate]
Uttarakhand

आखिर किसने मारा भाजपा विधायक के तमाचा…

भाजपा विधायक की प्रतिष्ठा अब सवालों के घेरे में है। अपनी जिद के आगे पार्टी को खत्म करने में तुले भाजपा विधायक के द्वारा लिए गए फैसले उनके ही गले की फांस बन चुकी है। पार्टी में फूट डालने का काम करते लालकुंआ भाजपा विधायक ने जिला पंचायत सदस्यों के टिकट बटवारे में पार्टी हित छोड़ अपना हित साधने का काम किया, जिसका फल उन्हें क्षेत्र की जनता ने अपने मतदान से दिया, उनके चेहते और भाजपा समर्पित दोनो जिला पंचायत सदस्यों को जनता ने आईना दिखाते हुए तीसरे नम्बर पर खदेड़ दिया, अपनी प्रतिष्ठा का सवाल बनाएं विधायक महोदय ने लगातार भाजपा समर्पित प्रत्याशी के पक्ष में मतदान के लिए ताबड़तोड़ बैठके की पर मतगणना में फल के रूप में तमाचे के सिवा कुछ नही मिला। तमाचा भी कुछ ऐसा था कि विधायक जी को धरातल की हकीकत से वाकिफ कराते हुए उन्हें जता दिया की उनके अहंकार और कूटनीति की समाज मे कोई जगह नही है। जग्गी बंगर जिला पंचायत सीट से दोनो भाइयो में भाजपा समर्पित टिकट को लेकर भेदभाव के चलते बैर करवाने और परिवार में फूट डालने का काम करते लालकुआं विधायक के गृह क्षेत्र में भाजपा बागी प्रत्याशी मोहन बिष्ट ने लगभग 11हजार मतो से जीत हासिल कर जनता का आभार व्यक्त किया। वही चोरगलिया आमखेड़ा जिला पंचायत सीट से भी भाजपा को तीसरे स्थान पर धकेल कर निर्दलीय प्रत्याशी निवेदिता जोशी ने जीत हासिल कर परचम लहराया। आपको बता दे कि निवेदिता जोशी के जीत की पृष्ठभूमि उनके पति रवि शंकर जोशी ने तैयार की, जिन्होंने गौलापार चोरगलिया क्षेत्र की मूलभूत सुविधाओ एवं विकास के लिए लड़ाइयां लड़ जनता के बीच अपनी अलग पहचान बनाई।

You may also like

MERA DDDD DDD DD