[gtranslate]
Uttarakhand

कागजो में चल रही फर्जी फर्मो पर कसेगी नकेल…

कुमाऊँ मण्डल में राज्य कर विभाग जीएसटी के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले व्यापारियों के खिलाफ सख्त रुख अपनाने जा रहा है। राज्य कर विभाग उन सभी फर्मो पर नज़र बनाये रखे हुए है जो जीएसटी के नाम पर फर्जीवाड़ा कर सरकार को राजस्व का चूना लगा रहे है। कुमाऊँ में 68 व्यापारियों के फर्जी फर्मो द्वारा लगभग आठ हजार करोड़ की ऑनलाइन धोखाधड़ी का मामला सामने आने के बाद राज्य कर विभाग के साथ साथ आयकर विभाग समेत अन्य महकमो ने भी व्यापारियों की फर्मो पर नज़र रखनी शुरू कर दी है। राज्य कर विभाग के सर्वेक्षण में पकड़े गए अधिकतर व्यापारियों ने अपने संस्थान को जीएसटी विभाग में फर्जी रजिस्ट्रेशन कराने के बाद जीएसटी जमा करने का दावा तो किया लेकिन दावा सिर्फ कागजों तक सीमित था विभाग के स्थलीय निरक्षण में कोई भी फर्म नही पाई गई। बताया जा रहा है की फर्जीवाड़ा करने वाली सभी 68 फर्मे बाहरी प्रदेशो की हैं जो जीएसटी रिफंड के नाम पर राज्य कर विभाग को चूना लगाने की कोशिश कर रहे थे, फिलहाल जीएसटी विभाग सभी फर्जी फर्मो और उनके स्वामियों की जांच में जुट गया है, आपको बता दें पकड़ी गई सभी फर्जी कंपनियों में प्लास्टिक एवं फुटवेयर के कारोबार को सिर्फ कागजों कागजों में दिखाकर ईवे बिल के माध्यम से आयात निर्यात कर फर्जीवाड़ा करते थे, ज्वाइंट कमिश्नर पीएस डूंगरियाल के बताया कि राज्य कर विभाग ऐसे व्यापारियों को चिन्हित कर रहा है जो जीएसटी के नाम पर ऑनलाइन फर्जीवाड़ा कर सरकार को चूना लगाने की कोसिस कर रहे हैं, साथ ही उन्होंने बताया कि जीएसटी के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले व्यापारियों पर जीएसटी विभाग की नज़र है साथ ही दोषी व्यापारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

You may also like

MERA DDDD DDD DD