[gtranslate]
Uttarakhand

निर्दलीय के जिम्मे जिला पंचायत अध्यक्ष… खरीद फरोख्त जारी।

नैनीताल जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी के लिए निर्दलीय अहम भूमिका में हैं। नैनीताल जिले में इस समय जिला पंचायत की स्थिति असमंजस में है, क्योंकि निर्दलीयों की संख्या 12 है। जबकि बीजेपी के पास 10 सीटें हैं, और कांग्रेस मात्र 5 सीटों पर अटकी हुई है, लिहाजा जिला पंचायत अध्यक्ष सीट के लिए जोर आजमाइश की जा रही है, हालांकि बीजेपी ने बेला तोलिया को जिला पंचायत अध्यक्ष पद का दावेदार बनाया है, बेला पहले ही जिला पंचायत सदस्य सीट पर निर्विरोध चुनी जा चुकी हैं, जो भी जिला पंचायत अध्यक्ष बनेगा उसको जीत के लिए 14 सदस्यों का सदस्यों का समर्थन मिलना जरुरी है, लिहाजा बीजेपी का समीकरण देखें तो उसके अपने 10 सदस्य हैं और उसको निर्दलीय 12 में से 4 सदस्यों की ज़रूरत है जिसके लिए मान मनोबल समेत जोड़-तोड़ की तमाम कोशिशें शुरू हो चुकी हैं, इसको देखते हुए बीजेपी के जीते हुए सभी जिला पंचायत सदस्य देहरादून में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से भी मिल चुके हैं, और यह जोर आजमाइश की जा रही है कि किसी भी सूरत में जिला पंचायत अध्यक्ष की सीट बीजेपी के हाथों से जानी नहीं चाहिए। जिला पंचायत अध्यक्ष की भाजपा उम्मीदवार बेला तोलिया के मुताबिक मुख्यमंत्री खुद भी निर्दलीय उम्मीदवारों से संपर्क साध रहे हैं।
       बीजेपी से बागी उम्मीदवार और निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में जिला पंचायत सीट पर जीत दर्ज कर चुके मोहन बिष्ट ने आरोप लगाया कि सरकार ने इस सीट को जान बूझकर महिला आरक्षित किया, यह सामान्य सीट होनी चाहिए थी, लिहाजा वह इस सीट पर आपत्ति भी दर्ज करा रहे हैं,
 लिहाजा भाजपा से बागी उम्मीदवारों की बात से यह बात भी साफ हो रही है कि वह बीजेपी के पक्ष में नहीं है, जबकि कांग्रेस और बीजेपी को निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में कड़ी टक्कर दे चुकें  हैं , नवनिर्वाचित जिला पंचायत सदस्य निवेदिता जोशी भी अपने काम और जनता से किए गए वादों को अपनी जीत की मुख्य वजह मानती हैं, और आने वाले समय में भी वह अपने काम के बल पर ही जनता के बीच में जाएंगी।
         उधर नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने जिला पंचायत अध्यक्ष और ब्लॉक प्रमुख सीट पर आम चुनाव कराने पर सहमत हैं, उन्होंने कहा की आम जनता इन प्रतिनिधियों को चुनेगी तो एक अच्छा माहौल तैयार होगा, क्योंकि रुद्रपुर में जिला पंचायत के सदस्यों को 25 लाख रुपए तक दिए जा रहे हैं,  यही नहीं हल्द्वानी समेत अन्य सीटों पर भी यही हाल होने जा रहा है, और इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव के लिए हॉर्स ट्रेडिंग बड़े पैमाने पर होगी, और यही हाल ब्लॉक प्रमुख की सीट के लिए भी हो रहा है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD