[gtranslate]
Uttarakhand

मिठाई की आड़ में हलवाई के अजब कारनामे…

                          अगर आप मिठाई खरीद रहे हैं तो खबर आप के लिए है।  नियमानुसार जब आप एक किलो मिठाई खरीद रहे होते हैं तो ग्राहकों को एक किलो मिठाई मिलनी चाहिए जबकि डिब्बे का कोई चार्ज नहीं लिया जा सकता। ऐसे में दुकानदार डिब्बा सहित ग्राहकों को एक किलो मिठाई तौल कर दे रहे थे जो घटतौली के दायरे में आता है, साथ ही पैकिंग वस्तुओं में भी वजन नहीं लिखा जा रहा है, हल्द्वानी में मामले की शिकायत के बाद बाट माप विभाग हरकत में आया है और घटतौली के खिलाफ छापामारी अभियान चलाकर मिठाई की दुकानों में छापेमारी कर रहा है, इस दौरान कई दुकानों से घटतौली करने पर भारी जुर्माना भी लगाया गया है, बाट माप विभाग ने गड़बड़ी करने वालों के खिलाफ कठोर कार्रवाई शुरू कर दी है, विभाग ने इस वित्तीय वर्ष में बड़ी-बड़ी कंपनियों के अलावा दुकानदारों द्वारा की गई घटतौली और मानक पूरा न नहीं करने पर पांच प्रतिष्ठानों के खिलाफ मामला दर्ज कर करीब 23 लाख 86 का जुर्माना वसूल राजस्व जुटाया है। बाट माप विभाग उपभोक्ताओं के संरक्षण के लिए दुकानदारों और कंपनियों की निगरानी करता है। कंपनी के एक्ट और शर्तो के अनुसार रेडिमेड कपड़ों की साइज, रेट और गुणवत्ता की क्वालिटी, दुकानदारों द्वारा की जा रही घटतौली, ऑफर और विज्ञापन पर निगरानी करता है। वरिष्ठ निरीक्षक बाट माप विभाग खुशहाल सिंह रावत के मुताबिक उपभोक्ताओं के संरक्षण के लिए बाट माप विभाग समय-समय पर कंपनियों और दुकानदारों की निगरानी करता है, कोई कंपनी या दुकानदार ग्राहकों को भ्रमित करने और उसके साथ घटतौली करते हुए पाया जाता है तो उसके खिलाफ विभाग करवाई करता है, उन्होंने बताया कि सभी कंपनियों को और दुकानदारों को नोटिस दिया जा चुका है कि अगर ग्राहकों के साथ कोई भी ठगी की जाती है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

You may also like