[gtranslate]
Uttarakhand

डेंगू की पैथोलॉजी जांच पर डीएम हुए सख्त, दिए निर्देश!

डेंगू के बढ़ते मामलों पर जिलाधिकारी नैनीताल सविन बंसल ने सख्त नाराजगी जताते हुए स्वास्थ्य विभाग को कड़ी फटकार लगाई है। जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग नैनीताल, आईएमए हल्द्वानी और निजी पैथोलॉजी लैब संचालकों की बैठक कर सख्त निर्देश दिए गए हैं कि वह अपनी रेट लिस्ट निर्धारित कर दें क्योंकि डेंगू और वायरल को देखते हुए पैथोलॉजी लैब मनमाने दाम वसूल रहे हैं। जिससे डेंगू मरीजों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। हर पैथोलॉजी लैब के अलग अलग रेट हैं, लिहाजा यह मनमानी नहीं चलेगी, यदि कोई पैथोलॉजी लैब संचालक मनचाहे रेट वसूलते हुए पकड़ा गया तो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी, सीएमओ नैनीताल ने भी भरोसा दिलाया की एक ही रेट लिस्ट के जरिए मरीजों के ब्लड सैंपल की जांच होगी, जिलाधिकारी द्वारा स्वास्थ्य महकमे के बड़े अधिकारियों को साफ निर्देश दे दिए है कि यदि जिले में किसी भी प्राइवेट अस्पताल या पैथोलॉजी लैब ने मनमाने दाम वसूले तो उसके खिलाफ तत्काल कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाए।

वही डेंगू अभी भी नियंत्रण में नहीं है लिहाजा किसी भी मरीज को वायरल भी होता है तो उसे अपने खून की जांच जरूरी करवानी होती है। हल्द्वानी ही नहीं दूरदराज से आने वाले लोग भी हल्द्वानी के अनेक पैथोलॉजी लैब में अपने खून की जांच करवा रहे हैं, लेकिन दाम जांच से कहीं ज्यादा वसूले जा रहे हैं, सीएमओ भारती राणा ने भी कहा है की डीएम से बैठक के बाद इस समस्या का सही हल निकाल लिया जाएगा, हालांकि बेस अस्पताल हल्द्वानी और सुशीला तिवारी अस्पताल में पैथोलॉजी सही रूप से मुफ्त में चल रही है, लेकिन जो प्राइवेट पैथोलॉजी लैब है वह अपने रेट निर्धारित करें इसको देखते हुए सख्त दिशा निर्देश जारी किए जा रहे हैं।

You may also like

MERA DDDD DDD DD