[gtranslate]
Uttarakhand

प्रमोद नैनवाल के भाजपा में शामिल होने से शुरू हुई बगावत

वर्ष 2017 के उत्तराखण्ड विधानसभा चुनाव में रानीखेत से निर्दलीय चुनाव लड़ने वाले प्रमोद नैनवाल को भाजपा में शामिल कर लिया गया है। प्रमोद नैनवाल वह नेता हैं जिन्होंने पार्टी से बगावत कर ली थी और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट  के खिलाफ चुनाव लड़ा था। उन्होंने भट्ट के वोट काटे और इसेस कांग्रेस चुनाव जीत गई थी। प्रमोद नैनवाल की पूर्व में पार्टी के प्रति की गई दयाबाजी के चलते अब उन्हें भाजपा में शामिल किए जाने का भारी विरोध हो रहा है। यहां त कि प्रमोद नैनवाल के इस समय भाजपा में शामिल होने से अल्मोड़ा भाजपा में बगावत के सुर उभर कर आने लगे हैं। बगावत के सुर इतने बुलंद हैं कि रानीखेत, ताड़ीखेत और भिक्यासैण के भाजपा मंडल पदाधिकारियों ने इस्तीफे की धमकी दी है। अन्य पदाधिकारियों ने भी यही ऐलान किया है। इन नेताओं ने दो टूक कहा है कि यदि नैनवाल को पार्टी में लिया गया तो वे लोकसभा चुनाव में प्रचार नहीं करेंगे। सूत्रों के हवाले से खबर यह भी है कि अल्मोड़ा के साथ अब नैनीताल लोकसभा क्षेत्र में भी नैनवाल को विरोध का असर दिखने लगा है। एक बड़े नेता ने नाम छापने की शर्त पर बताया है कि प्रमोद नैनवाल को भाजपा में शामिल करने के पीछे अजय भट्ट को हरवाने की साजिश है। प्रमोद को पार्टी में लिये जाने का विरोध करने वाले नेताओं ने भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष नरेंश बंसल, चुनाव प्रभारी केदार जोशी व जिलाध्यक्ष गोविंद पिलख्वाल से शिकायत कर आपत्ति दर्ज की है।

प्रमोद नैनवाल की भाजपा में इंट्री से घबराए ‘दि संडे पोस्ट’ के पत्रकार मनोज बोरा ने अल्मोड़ा में प्रेस काफ्रेंस कर अपनी हत्या की आशंका व्यक्त की है। प्रेस कॉन्फ्रेंस में  मनोज बोरा ने  पुलिस की कार्य प्रणाली तथा वर्तमान में भातीय जनता पार्टी की सरकार एवं मुख्यमंत्री पर आरोप लगाते हुए कहाँ की  पुलिस ने मेरी हत्या के षड्यंत्र रचने वाले प्रमोद नैनवाल उसके भाई सतीश नैनवाल को छूट दे रखी है। वो चाहे कितने पत्रकारों को मरवा दे या कोई भी अपराध खुलेआम कर सकते हैं। मैंने ये प्रेसवार्ता इसलिए करी जब मुझे सोशल मीडिया द्वारा ये पता चला कि भारतीय जनता पार्टी ने उसे सदस्यात दे दी हैं इस कारण में अल्मोड़ा आके प्रेस वार्ता कि है कि जिसे गिरफ्तार करना चाहिए था। उसे सह दी जा रही हैं अगर पत्रकारों की हत्या का षड्यंत्र रचने वाले लोगों को भारतीय जनता पार्टी सदस्यता और संरक्षण देती है तो 12/04/2019 के बाद हम पत्रकार साथियों सम्पूर्ण उत्तराखण्ड में आमरण-अनशन एवं जेल भरो आंदोलन छेड़ दिया जाएगा।

You may also like

MERA DDDD DDD DD