sport

टीम इंडिया की विराट जीत ,ऐतिहासिक डे-नाइट टेस्ट में बांग्लादेश पर बरपा ‘गुलाबी’ कहर

भारत ने दूसरे व ऐतिहासिक डे नाइट टेस्ट में बांग्लादेश को पारी और 46 रन से हराकर दो मैचों की टेस्ट सीरीज 2-0 से अपने नाम कर ली। पहले टेस्ट में भारत ने बांग्लादेश को पारी और 130 रनों से हराया था। कोलकाता के ईडन गार्डंस में खेले गए पिंक बॉल टेस्ट में बांग्लादेश ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए पहली पारी में महज 106 रन पर सिमट गई। जवाब में भारत ने अपनी पहली पारी 347 रन पर पारी  घोषित की थी। दूसरी पारी खेलने उतरी बांग्लादेश की पूरी टीम 195 रन पर ऑलआउट हो गई। इसके साथ टीम इंडिया ने यह मैच अपने नाम कर लिया। इस मैच भारतीय तेज गेंदबाजों का पूरा बोलबाला रहा। भारतीय तेज गेंदबाजों के सामने बांग्लादेशी बल्लेबाज घुटने टेकते नजर आए।

भारतीय टीम के कप्तान ने इस मैच में 18 चौके की मदद से 136 रन की शानदार शतकीय पारी खेली। उन्होंने गुलाबी टेस्ट में पहला और टेस्ट करियर का 27वां शतक लगाया। इसके साथ ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में विराट के 70 शतक हो गए हैं। वहीं, बतौर कप्तान विराट के  नाम 41 शतक दर्ज हैं।भारतीय तेज गेंदबाज इशांत शर्मा की जितनी तारीफ की जाए उतनी कम है। उन्होंने  इस पिक बॉल टेस्ट में दो परियों में  नौ विकेट चटकाए। पहली पारी में पांच और दूसरी पारी में चार विकेट अपने नाम किए। इशांत को बेहतरीन गेंदबाजी के लिए इस ऐतिहासिक डे नाइट टेस्ट मैच में मैन ऑफ द मैच चुना गया। साथ ही गुलाबी टेस्ट में पहला विकेट, पहला मेडन और पहला गेंद फेंकने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बने।

इशांत के साथ उमेश यादव ने भी लाजवाब प्रदर्शन किया। उमेश ने गुलाबी टेस्ट में कुल मिलाकर आठ विकेट चटकाए। पहली पारी में तीन और दूसरी पारी में उमेश ने पांच विकेट चटकाए।भारतीय टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए पहली पारी में 69 गेंदों में सात चौके की मदद से 51 रन की अर्धशतकीय पारी खेली। पिंक बॉल टेस्ट में रहाणे का यह पहला अर्धशतक था।साथ ही चेतेश्वर पुजारा ने भी अपने बल्ले से 55 रनों  की अर्धशतकीय पारी खेली। गुलाबी गेंद से यह उका पहला अर्धशतक था।

इस दो मैचों की टेस्ट सीरीज में मिली करारी हार के बाद बांग्लादेशी कप्तान मोमिनुल हक काफी निराश दिखे। भारत ने दोनों मैचों में बांग्लादेश को पारी और रन से हराया। इंदौर में खेले गए पहले मैच में भारत ने पारी और 130 रन, जबकि कोलकाता में खेले पिंक बॉल टेस्ट में पारी और 46 रन से हरा दिया। इसके साथ भात ने घरेलू सरजमीं पर लगातार 12वीं सीरीज जीती है। वहीं, विराट की कप्तानी में भारत की यह सातवीं जीत है।

विराट कोहली बने टेस्ट में सबसे तेज 5000 रन बनाने वाले कप्तान कप्तान

हार से निराश मोमिनुल ने मैच के बाद कहा, ‘निश्चित तौर से मैं चिंतित और निराश हूं। दोनों टीमों के बीच का अंतर चिंता की बात है। हम पिछले दो मैचों से सबक सीखेंगे और अपनी गलतियों को दोहराएंगे नहीं। गुलाबी गेंद से खेलना थोड़ा चुनौतीपूर्ण है क्योंकि जब यह नई होती है तो काफी स्विंग करती है। कुछ सकारात्मक भी रहा। इबादत ने अच्छी गेंदबाजी की। मुशी भाई और लिटन दास ने दिखाया कि वह बल्ले से क्या कर सकते हैं। इंदौर में पिच काफी सूखी थी। इससे फर्क नहीं पड़ता। हम गेंदबाजी पहले करें या बाद में।’

कोलकाता में भारत ने टॉस हारने के बाद पहले गेंदबाजी करते हुए बांग्लादेश को 106 रनों पर आउट किया और फिर कप्तान विराट कोहली के शानदार शतक की बदौलत अपनी पहली पारी नौ विकेट पर 347 रनों पर घोषित कर दी थी। भारत के लिए पहली पारी में इशांत शर्मा ने पांच विकेट लिए। वहीं, दूसरी पारी में बांग्लादेशी टीम 195 रन पर ही सिमट गई और मैच हार गई।

You may also like