[gtranslate]
sport

सुशील पहलवान की बढ़ी मुश्किलें, उत्तर रेलवे ने नौकरी से किया सस्पेंड

सागर राणा हत्याकांड में भारत के स्टार पहलवान सुशील कुमार पुलिस द्वारा हथकड़ी लगाए जाने के बाद अब एक और बड़े संकट का सामना कर रहे हैं। सुशील को उत्तर रेलवे में नौकरी से निलंबित कर दिया गया है। यह जानकारी उत्तर रेलवे के सीपीआरओ ने मंगलवार को दी।

सुशील कुमार की गिरफ्तारी के बाद उनकी नौकरी पर भी असर पड़ने की संभावना है। दिल्ली सरकार ने प्रतिनियुक्ति बढ़ाने की सुशील की मांग को खारिज कर दिया। उनके आवेदन को दिल्ली सरकार ने खारिज कर दिया और जहां वह काम कर रहे थे उत्तर रेलवे विभाग को भेज दिया। सुशील 2015 से दिल्ली सरकार में प्रतिनियुक्ति पर हैं और उनका कार्यकाल 2020 तक बढ़ा दिया गया था। इस साल भी कार्यकाल बढ़ाया जाना था। उत्तर रेलवे के एक वरिष्ठ वाणिज्यिक प्रबंधक सुशील कुमार को दिल्ली सरकार ने छत्रसाल स्टेडियम में विशेष कर्तव्य अधिकारी (ओएसडी) के रूप में नियुक्त किया था।

दिल्ली पुलिस के विशेष दस्ते ने छत्रसाल स्टेडियम में 23 वर्षीय सागर राणा की हत्या और मारपीट के आरोपी ओलंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार को गिरफ्तार किया है। सुशील कुमार ने मामले में दिल्ली की एक अदालत में जमानत मांगी थी। हालांकि कोर्ट ने जमानत खारिज कर दी थी।

उचित जांच हो – सागर राणा के माता-पिता

पीड़ित सागर राणा के परिवार ने मामले की उचित जांच की मांग की है और सुशील कुमार को मिली कठोर सजा पर नाराजगी व्यक्त की है। उन्होंने आशंका व्यक्त की है कि सुशील कुमार अपनी राजनीतिक पहचान के जरिए जांच को प्रभावित कर सकते हैं। सागर राणा के पिता अशोक ने मांग की है कि अदालत को हत्या के मामले की भी जांच करनी चाहिए ताकि सुशील कुमार पुलिस जांच में बाधा डालने के लिए अपनी राजनीतिक पहचान का इस्तेमाल न करें। सागर राणा की मां ने भी गुस्सा जाहिर करते हुए कहा है कि वह गुरु कहलाने के लायक नहीं हैं।

एक हीरो का डाउन फॉल, गैंगस्टरओं की संगत ले डूबी सुशील पहलवान को

You may also like

MERA DDDD DDD DD