[gtranslate]

रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया ने राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार के लिए बजरंग पूनिया और विनेश फोगाट के नाम की सिफारिश की है। संघ ने दोनों ही खिलाड़ियों का नाम राजीव गांधी खेल रत्न के लिए प्रस्तावित किया है। वहीं नेशनल राइफल एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार के लिए हिना सिद्धू और अंकुर मित्तल के नाम की सिफारिश की है।

पिछले वर्ष 2018 में भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और वेटलिफ्टर मीरा बाई चानू को यह सर्वोच्च राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार दिया गया था। बजरंग पूनिया पिछले साल यह पुरस्कार नहीं मिलने से काफी नाराज भी हुए थे, यहां तक की उन्होंने नजर अंदाज करने का आरोप लगाया था। और अदालत जाने की धमकी तक दे डाली थी। हालांकि अपने गुरु योगेश्वर दत्त के समझाने और खेल मंत्री राजवर्धन राठौर से मिलने के बाद उन्होंने अपना इरादा बदल लिया था।

बजरंग पूनिया के नाम अब तक इंटरनेशनल टूर्नामेंटों में कुल आठ गोल्ड मेडल हैं। उन्होंने कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स में भी स्वर्ण अपने नाम किया है। वहीं विनेश फोगाट ने हाल ही में हुई एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में 53 किलो भार वर्ग में कांस्य पदक जीता था। बजरंग और विनेश दोनों ने भारतीय कुस्ती को ऊंचाइयों पर पहुंचाया है। दोनों ने कई मेडल जीतकर देश का नाम रोशन किया है। पिछले साल एशियाई खेलों में दोनों ने अपने-अपने वर्ग में गोल्ड जीता था। विनेश तो एशियाई खेलों में गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली भारतीय महिला पहलवान बनी थी।

चार रेसलर और तीन शूटर्स को अर्जुन अवार्ड देने की सिफारिश की है। कुश्ती संघ ने राहुल अवारे, हरप्रीत सिंह, दिव्या ककरन और पूजा ढांडा का नाम अर्जुन पुरस्कार के लिए आगे किया है। वर्ष 2018 के कॉमनवेल्थ गेम्स में 57 किलोग्राम भार वर्ग में राहुल ने स्वर्ण पदक जीता था। दिव्या ककरन ने एशियन गेम्स मे मेडल जीता। पूजा ढांडा ने 2010 के समर यूथ ओलंपिक और 2018 के कॉमनवेल्थ गेम्स में रजत पदक जीता था।

द्रोणाचार्य अवार्ड के लिए जिन लोगों का नाम प्रस्तावित किया गया है उनमें विरेंदर कुमार, सुजीत मान, नरेंद्र कुमार और विक्रम कुमार शामिल हैं। द्रोणाचार्य अवार्ड खेलों के प्रशिक्षण के लिए दिया जाता है। द्रोणाचार्य अवार्ड के लिए भीम सिंह और जय प्रकाश का नाम भी भेजा गया है। गौरतलब है कि राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार देश का सबसे बड़ा खेल पुरस्कार है। इसमें पदक और प्रशस्ति पत्र के साथ खिलाड़ी को 7.5 लाख रुपये की पुरस्कार राशि दी जाती है।

सभी खेलों के बोर्ड अपनी तरफ से इन पुरस्कारों के लिए खिलाड़ियों के नाम की सिफारिश करते हैं। जिसके बाद खेल मंत्रालय इस पर फैसला लेता है। हाल ही में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने चार भारतीय क्रिकेटरों के नाम अर्जुन अवार्ड के लिए भेजे हैं। बोर्ड ने भारतीय महिला क्रिकेटर पूनम यादव। जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और रवींद्र जडेजा के नाम भेजे हैं।

खेल मंत्री इन सभी नामों की समीक्षा करेंगे और उनके प्रदर्शन का आकलन किया जाएगा। इसके बाद मंत्रालय चयन समिति को राष्ट्रीय खेल पुरस्कारों के लिए अपने सुझाव दे सकता है। हर साल खेल पुरस्कार महान हॉकी खिलाड़ी मेजर ध्यानचंद के जन्मदिन पर 29 सितंबर को दिए जाते हैं।

You may also like