[gtranslate]
sport

भारत की तैयारियों को झटका

विश्वचैंपियन मैरीकाॅम सहित टोक्यो ओलेपिक का टिकट हासिल कर चुकीं 21 महिला बाॅक्सर कोरोना संक्रमित

खेलों का महाकुंभ यानी ओलंपिक हर चार साल पर होता है, लेकिन कोरोना वायरस महामारी के कारण 2020 में इसका आयोजन नहीं हो पाया था। अब सालभर की देरी से जापान के टोक्यो में इसका आयोजन होने जा रहा है। इसकी शुरुआत 23 जुलाई से होगी और आठ अगस्त को इसका समापन होगा। ओलंपिक में इस बार 33 खेलों में 339 मेडल के लिए मुकाबले होंगे। ओलंपिक में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए सभी खिलाड़ी जमकर पसीना बहा रहे हैं, लेकिन भारत की स्टार खिलाडी और छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरी काम समेत टोक्यो का टिकट हासिल कर चुकी महिला बाॅक्सरों की ओलंपिक की तैयारियों को बड़ा झटका लगा है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम में चल रहे अभ्यास शिविर में 21 महिला बाॅक्सर, कोच, और सपोर्ट स्टाफ संक्रमित पाए गए हैं। इतने बड़े संक्रमण को ध्यान रखते हुए न सिर्फ महिला बाॅक्सरों की तैयारियों को तत्काल बंद कर दिया गया है, बल्कि उनकी सर्बिया रवानगी को भी रोक दिया गया है। सभी को जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम भेजने की तैयारी की जा रही है। हालांकि साई का दावा है कि संक्रमितों में ओलंपिक टिकट हासिल करने वाला कोई बाॅक्सर नहीं है।

मैरी के अलावा सिमरनजीत कौर, लोवलीना और पूजा ने टोक्यो का टिकट हासिल किया है। इनकी तैयारियों के लिए 34 सदस्यीय शिविर चल रहा है। मैरी को छोड़ लोवलीना, पूजा, सिमरन समेत दस सदस्यीय टीम को ट्रेनिंग कम कंपटीशन दौरे पर 15 अप्रैल को सर्बिया रवाना होना था, लेकिन इसे अब रद्द कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि शिविर में शामिल विदेशी कोच, चीफ कोच समेत अन्य कोच, सपोर्ट स्टाफ कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। साथ ही सभी बाॅक्सर कोच और सपोर्ट स्टाफ के संपर्क में आए हैं। सभी का फिर से आरटीपीसीआर टेस्ट कराया जाएगा। हालांकि किसी को भी अब तक अस्पताल में दाखिल नहीं कराया गया है, लेकिन एक कोच बुरी तरह संक्रमित हैं।

इस सब के बीच खेल मंत्री किरन रिजीजू समेत भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष नरेंदर बत्रा और महासचिव राजीव मेहता को टोक्यो ओलंपिक में भारतीय खिलाड़ियों से दोहरे अंकों में पदक जीतने की आशा है। खेल मंत्री ने टोक्यो ओलंपिक को लेकर एक कार्यक्रम के मौके पर पीवी सिंधू, लालरेमसियामी, साई परणीथ, मनिका बत्रा समेत कई खिलाड़ियों के बीच कहा कि जिस तरह की सुविधाएं सरकार की ओर से इस बार खिलाड़ियों को दी जा रही हैं। उससे उन्हें उम्मीद है कि टोक्यो में पहली बार पदक दोहरे अंकों में पहुंचने चाहिए। खेल मंत्री ने खिलाड़ियों से कहा कि दुनिया में ओलंपिक से बड़ा कोई खेल आयोजन नहीं है। ऐसे में खिलाड़ियों को देश के लिए अपना सब कुछ लगाकर यहां पदक जीतने का प्रयास करना होगा। खेल मंत्री ने घोषणा की कि टोक्यो जाने वाली सभी भारतीय खिलाड़ियों के संघर्ष पर लघु फिल्म बनाई जाएगी। कई खिलाड़ियों पर फिल्म बन चुकी है और वह विश्वास दिलाते हैं कि बाकी सभी खिलाड़ियों पर भी यह फिल्म जल्द बनेगी। टोक्यो ओलंपिक की तैयारियों में जुटा जापान ने कहा है ओलंपिक में भाग लेने आने वाले खिलाड़ियों में अगर कोरोना के ़के ़मामूली लक्षण पाए जाते हैं तो उन्हें होटल में क्वारंटीन में रखा जा सकता है।

जापान की समाचार एजेंसी क्योदो के मुताबिक आयोजक खेल गांव के समीप एक होटल में 300 कमरे बुक करने की योजना पर काम रहे हैं। एजेंसी ने इस योजना की जानकारी रखने वाले अधिकारियों के हवाले से यह जानकारी दी। यह कमरे उन खिलाड़ियों या कोचिंग स्टाफ के लिए होंगे जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराने की जरूरत नहीं है। टोक्यो ओलंपिक की 121 दिवसीय मसाल रिले शुरू हो गई है जो 23 जुलाई को टोक्यो में उद्घाटन समारोह के साथ समाप्त होगी। मशाल रिले की शुरुआत फुकुशिमा से हुई जो 2011 के भूकंप, सुनामी और परमाणु संयंत्रों से रिसाव की त्रासदी झेल चुका है। उस हादसे में करीब 18 हजार लोग मारे गए थे। मसाल सबसे पहले अजुसा इवाशिमिझू ने थामी थी जो 2011 महिला विश्वकप जीतने वाली जापान टीम की अहम सदस्य थी।

इस रिले में करीब 10 हजार धावकों के भाग लेने की उम्मीद है जो जापान के 47 शहरों से गुजरेगी। कोरोना महामारी के कारण पिछले साल ओलंपिक स्थगित हो गए थे। आयोजक और अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) ने विदेश से आने वाले दर्शकों पर रोक लगा दी है। अभी यह घोषणा की जानी बाकी है कि स्थलों पर कितने लोग एकत्रित हो सकते हैं। टोक्यो, ओसाका और आस-पास कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है। हाल ही में वहां रोकथाम के लिए कड़े कदम उठाने की घोषित की गई है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD