[gtranslate]
sport

सिडनी में शुरुआती झटकों के बाद संभला ऑस्ट्रेलिया ,तीसरे विकेट के लिए 60 रनों की साझेदारी

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज के  तीसरे मुकाबले में  सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में ऑस्ट्रेलिया के कप्तान टिम पेन ने ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। ऑस्ट्रेलिया ने पहले दिन का खेल खत्म होने तक 2 विकेट के नुकसान पर 166 रन बना लिए हैं।  इस समय सीरीज 1-1 से बराबरी पर चल रही है। दोनों टीमों के बीच सीरीज का पहला मैच एडिलेड में खेला गया था, जिसे ऑस्ट्रेलिया ने आठ विकेट से जीता था, जबकि दूसरे मुकाबले में भारत ने पलटवार करते हुए यह मुकाबला आठ विकेट से अपने नाम किया था।

तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज ने इस मैच में वापसी कर रहे सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर को महज पांच रनों पर  आउट करके भारत को पहली सफलता दिलाई, तो दूसरी सफलता टेस्ट मैच में पदार्पण  कर रहे युवा तेज गेंदबाज नवदीप सैनी ने दिलाई।

तीसरे नंबर पर आए मार्नस लाबुशेन 67 रन बनाकर नाबाद खड़े हैं। स्टीव स्मिथ के साथ 31 रन पर नॉटआउट हैं, दोनों के बीच तीसरे विकेट के लिए अब तक 60 रन की साझेदारी हो चुकी है।पहले दिन का खेल खत्म, ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 166 रनों पर दो विकेट हो चुके हैं।

तीसरे टेस्ट के पहले दिन  बारिश के कारण लगभग चार घंटे तक खेल रुका रहा। सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) के मैदानकर्मियों ने बारिश थमने के बाद मैदान को खेलने के लायक बनाने के लिए कड़ी मेहनत की, उन्होंने सुपर सोपर का भी उपयोग किया जिससे की स्थानीय समयानुसार दोपहर बाद तीन बजे खेल शुरू हो पाया। दिन में कुल 57 ओवर ही फेंके गए। पहले दिन का आखिरी ओवर नवदीप सैनी फेंक रहे कप्तान रहाणे ने डेब्यूटेंट नवदीप सैनी को गेंद थमाई ।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी में आज से शुरू हुआ तीसरा टेस्ट मैच कई मायनों में खास है। मैच में मैदान से लेकर खिलाड़ियों, स्टंप्स से लेकर दर्शक स्टैंड तक सबकुछ पिंक-पिंक नजर आ रहा है। मैच के दौरान लोग ब्रेस्ट कैंसर जागरुकता अभियान में अपना समर्थन जताने के लिए पिंक रंग के कपड़े पहनते हैं। साथ ही 1-1 से बराबरी पर खड़ी टेस्ट सीरीज किस दिशा में मुड़ेगी, इसका फैसला सिडनी टेस्ट से हो जाएगा। इन सबके इतर यह मुकाबला क्लेयर पोलोसक के लिए भी याद रखा जाएगा।

ऑस्ट्रेलिया की क्लेयर पोलोसाक पुरुषों के टेस्ट क्रिकेट में अंपायरिंग करने वाली पहली महिला बन गई। न्यू साउथ वेल्स में रहने वाली 32 वर्षीय यह महिला चौथे अंपायर की भूमिका अदा कर रही है। टॉस के दौरान वह दोनों कप्तानों और मैच रेफरी के साथ दिखाई दी थी। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने उन्हें बधाई भी दी।

मैच में दो पूर्व तेज गेंदबाज पॉल रिफेल और पॉल विल्सन मैदानी अंपायर की भूमिका निभा रहे हैं जबकि ब्रूस ऑक्सेनफोर्ड तीसरे (टेलीविजन) अंपायर हैं। पूर्व कंगारू पेसर डेविड बून मैच रेफरी हैं। टेस्ट मैचों के लिए आईसीसी के नियमों के अनुसार, चौथे अंपायर को घरेलू क्रिकेट बोर्ड द्वारा अपने आईसीसी अंपायरों के अंतरराष्ट्रीय पैनल में से नियुक्त किया जाता है।

चौथे अंपायर का काम मैदान में नई गेंद लाना, अंपायरों के लिए ड्रिंक ले जाना, लंच और चाय के दौरान पिच की देखभाल और लाईटमीटर से रोशनी की जांच करना होता है। किसी परिस्थिति में मैदानी अंपायर के हटने के बाद तीसरे अंपायर को मैदान में सेवाएं देनी होती हैं जबकि चौथे अंपायर को टेलीविजन अंपायर की भूमिका निभानी होती है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD