[gtranslate]
sport

2021 में भी ओलम्पिक में खेल सकेंगे क्वालीफाई कर चुके खिलाड़ी 

कोरोना के कारण कई लीग और खेल आयोजनों को स्थगित या रद्द कर दिया गया है। इसी बीच टोक्यो ओलंपिक 2020 को भी स्थगित कर दिया गया है। कोविड- 19 महामारी के चलते 24 मार्च मंगलवार को ओलम्पिक खेलों को एक साल के लिए स्थगित कर दिया गया। इस फैसले से कई खिलाडी निराश जरूर हुए होंगे। लेकिन उनके लिए एक अच्छी खबर भी है।

क्वालिफाई कर चुके खिलाड़ियों के कोटा स्थान खेलों के एक साल के लिए स्थगित होने के बावजूद सुरक्षित रहेंगे। वह साल 2021 में भी खेलेंगे। टोक्यो में  होने वाले ओलम्पिक में भाग लेने वाले 11000 में से 57 प्रतिशत खिलाड़ी क्वालिफाई कर चुके हैं। सभी अंतरराष्ट्रीय खेल संगठनों ने इस पर सहमति जताई है। इन खेलों में 11 हजार खिलाड़ियों को भाग लेना था। जिसमें 57 प्रतिशत खिलाड़ी क्वालिफाई कर चुके हैं।

33 खेलों में अभी भी क्वालीफाइंग स्पर्धाएं बाकी हैं। खेलों में क्वालीफाइंग प्रक्रिया उसकी अंतरराष्ट्रीय नियामक ईकाई की ओर से तय की जाती है।  विश्व एथलेटिक्स के अध्यक्ष सेबेस्टियन कू ने पुष्टि की है कि सभी खेलों ने आईओसी के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है कि ओलिंपिक 2020 के लिए क्वालिफाई कर चुके एथलीट अगले साल भी सभी प्रतियोगिताओं में खेलेंगे।

आईओसी और 32 अंतरराष्ट्रीय खेल महासंघों की बृहस्पतिवार को हुई टेलीकांफ्रेंस में भाग लेने वाले एक अधिकारी ने कहा, “आईओसी अध्यक्ष थामस बाक ने खेलों को स्थगित करने के फैसले का कारण बताया। इसके बाद कहा कि टोक्यो 2020 के लिए क्वालिफाई कर चुके खिलाड़ी 2021 में भी खेलेंगे।”

ओलिंपिक में दुनिया के 200 से अधिक देश हिस्सा लेते हैं। हर एक खिलाड़ी का सपना ओलिंपिक में देश का प्रतिनिधित्व करना होता है। हर चार साल में भव्य रूप से इन खेलों का आयोजन किया जाता है। खेलों की मेजबानी मिलते ही मेजबान देश इसकी तैयारियों में जुट जाते हैं और इसकी तैयारियां में करीब चार साल लग जाते हैं।

मंगलवार, 24 मार्च को जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने अंतरराष्ट्रीय ओलिंपिक समिति (आईओसी) अध्यक्ष थॉमस बाक के साथ वार्ता के बाद ही टोक्यो ओलिंपिक खेलों को एक साल के लिये स्थगित करने का निर्णय लिया था।

You may also like