[gtranslate]

प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) के चौथे सीजन में पीवी सिंधू, साइना नेहवाल, विश्व चैंपियन कैरोलिना मारिन के अलावा किदांबी श्रीकांत और एसएस प्रणय प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) के आगामी सत्र के लिए हुई खिलाड़ियों की बोली में सबसे ज्यादा 80 लाख रुपये में बिके।

प्रीमियर बैडमिंटन लीग 2018 (पीबीएल) के चौथे सत्र की शुरुआत 22 दिसंबर से मुंबई में होने जारी रही है। इसके लिए दिल्ली में हुए एक कार्यक्रम में खिलाड़ियों की बोली लगाई गई, जिसमें साइना नेहवाल, पीवी सिंधू, किदांबी श्रीकांत के लिए सबसे अधिक राशि की बोली लगी। इसके अलावा विश्व बैडमिंटन चैंपियन कैरोलिना मारिन और एसएस प्रणय भी सबसे अधिक राशि में बिके। सत्र का फाइनल मुकाबला 13 जनवरी को बंगलुरु में खेला जाएगा। इस बार की सर्वाधिक बोली रही 80 लाख रुपए जो प्रीमियर बैडमिंटन की अब तक की सबसे ज्यादा बोली भी है। पीबीएल के आगामी सत्र के लिए खिलाड़ियों को लेकर लगाई गई सर्वाधिक बोली 80 लाख रुपए रही। साइना, सिंधू, श्रीकांत, मारिन और प्रणय बोली में सबसे ज्यादा इसी राशि यानी 80 लाख रुपए में बिके। इस बार बोली में राइट टू मैच (आरटीएम) कार्ड का विकल्प नहीं था, ऐसे में फ्रेंचाइजी टीमों में आइकन खिलाड़ियों को जोड़ने की होड़ मची रही। इंडोनेशिया के टॉमी सुगिआर्तो गैर आइकन खिलाड़ियों में सबसे महंगे बिके। डालमिया सीमेंट समूह की दिल्ली डैशर्स की टीम ने उनके लिए 70 लाख रुपए की बोली लगाई। बोली के दौरान पीवी सिंधू और मारिन करीब सभी टीमों के लिए संयुक्त पसंद थे। उनके लिए कम से कम चार टीमों ने अधिकतम राशि 80 लाख की बोली लगाई। इनके लिए फिर ड्रॉ करवाया गया, जहां मारिन बॉलीवुड अदाकार तापसी पन्नू की पुणे टीम के पाले में चली गईं। टूर्नामेंट की नई फ्रेंचाइजी पुणे से जुड़ने पर स्पेन की खिलाड़ी मारिन ने कहा, ‘मैं पुणे टीम का हिस्सा बनकर खुश हूं’। बता दें कि पिछले साल मारिन ने हैदराबाद हंटर्स को खिताब दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी।

ड्रॉ में मारिन के हाथ से निकलने के बाद हैदराबाद हंटर्स के लिए अच्छी बात यह रही कि पीवी सिंधू अब उनकी टीम का प्रतिनिधित्व करेंगी। वहीं साइना नॉर्थ-ईस्टर्न वॉरियर्स के लिए खेलेंगी। श्रीकांत बेंगलुरू रैप्टर के लिए खेलेंगे और एचएस प्रणय दिल्ली डैशर्स की ओर से चुनौती पेश करेंगे। वहीं 15 लाख के आधार कीमत वाले रंकीरेड्डी के लिए अहमदाबाद स्मैश मास्टर्स और हैदरबार हंटर के बीच बोली लगाने की होड़ दिखी, जिन्हें अहमदाबाद की टीम ने 52 लाख में टीम के साथ जोड़ा।

प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) को नई ऊंचाइयों पर ले जाने के अपने अभियान के तहत भारतीय बैडमिंटन संघ (बीएआई) ने चौथे सीजन में एक नई फ्रेंचाइजी टीम को इस लीग में शामिल किया है जिससे इस बार टीमों की संख्या नौ पहुंच गई है। इसके अलावा चौथे सीजन में लीग के अब तक के सभी संस्करणों से अधिक 6 करोड़ रुपए की पुरस्कार राशि होगी। जिसमें विजेता टीम को तीन करोड़, उपविजेता को 1.5 करोड़, तीसरे और चौथे स्थान पर आने वाली टीमों को 75-75 लाख रुपए मिलेंगे। तीन संस्करणों के सफल आयोजन के बाद अब इस लीग में पुणे के रूप में एक नया शहर जुड़ रहा है। पुणे की टीम का नाम पुणे सेवन एसेज होगा और इसका मालिकाना हक बॉलीवुड अभिनेत्री तापसी पन्नू और उनकी मैनेजमेंट एजेंसी केआरआई के पास है।

यह लीग बीएआई की संपत्ति है और इसका आयोजन स्पोर्ट्जलाइव करता है। बीएआई अध्यक्ष और पीबीएल के चेयरमैन हिमंता बिस्वासरमा ने कहा, बीते कुछ वर्षों में देश में सबसे अधिक पसंद किए जाने वाले खेल के रूप में बैडमिंटन उभरा है। इस दिशा में पीबीएल का अहम योगदान रहा है। लीग के पहले सीजन में छह टीमों ने हिस्सा लिया था और अब हमारे पास तीन साल में नौ फ्रेंचाइजी टीमें हैं। यह एक शानदार उपलब्धि है।

पिछले साल इस लीग में आठ टीमों ने हिस्सा लिया था और छह करोड़ रुपए की पुरस्कार राशि रखी गई थी। पिछले साल दिल्ली डैशर्स (दिल्ली), मुंबई रॉकेट्स (मुंबई), अवध वॉरियर्स (लखनऊ), हैदराबाद हंटर्स (हैदराबाद), चेन्नई स्मैशर्स (चेन्नई), बेंगलुरू रैप्टर्स (बेंगलुरू), अहमदाबाद मास्टर्स (अहमदाबाद) और नार्थ ईस्टर्न वॉरियर्स (गुवाहाटी) ने खिताब के लिए दावेदारी पेश की थी। 2016 की ओलंपिक चैंपियन स्पेन की कैरोलिना मारिन के नेतृत्व में हैदराबाद की टीम ने बीते सीजन खिताब जीता था।

सीजन-3 में लीग ने 60 विश्व स्तरीय खिलाडिय़ों को आकर्षित किया था। इनमें नौ ओलम्पिक पदकधारी और भारतीय बैडमिंटन सर्किट से कई प्रतिभाशाली खिलाड़ी शामिल हैं। स्टार स्पोर्ट्स पर पीबीएल का प्रसारण होगा और इसके जरिए यह लीग चार करोड़ लोगों तक सीधे पहुंची है। इसके अलावा दुनिया भर के लोगों ने हॉटस्टार पर इसके मैचों का आनंद लिया है। सीजन-3 में बड़ी संख्या में दर्शक स्टेडियमों तक आए और इस कारण आयोजकों को एक करोड़ रुपए से अधिक का लाभ हुआ।

पिछले साल इस लीग में आठ टीमों ने हिस्सा लिया था और छह करोड़ रुपये की पुरस्कार राशि रखी गई थी। पिछले साल दिल्ली डैशर्स (दिल्ली), मुंबई रॉकेट्स (मुंबई), अवध वॉरियर्स (लखनऊ), हैदराबाद हंटर्स (हैदराबाद), चेन्नई स्मैशर्स (चेन्नई), बेंगलुरू रैप्टर्स (बेंगलुरू), अहमदाबाद मास्टर्स (अहमदाबाद) और नार्थ ईस्टर्न वॉरियर्स (गुवाहाटी) ने खिताब के लिए दावेदारी पेश की थी। 2016 की ओलंपिक चैंपियन स्पेन की कैरोलिना मारिन के नेतृत्व में हैदराबाद की टीम ने बीते सीजन खिताब जीता था।

You may also like

MERA DDDD DDD DD