देश की जानी-मानी बॉक्सर एमसी मैरी कॉम ने आज इतिहास रच लिया हैं। मैरी कॉम ने विश्व महिला चैम्पियनशिप के क्वाटर्रफ़ाइनल में कोलंबिया की इनग्रिट वेलेंसिया को 5-0 से मात देकर सेमीफाइनल में जगह बना ली हैं इसी के साथ भारतीय महिला मुक्केबाज ने विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में अपना आठवां मेडल सुनिश्चित कर लिया हैं।

रूस में चल रही वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप मे मैरी कॉम ने आज 51 किग्रा भार वर्ग के क्वाटर्रफ़ाइनल में कोलंबिया की इनग्रिट वेलेंसिया को 5-0 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बना ली  हैं। इसी के साथ ही उन्होंने एक और मेडल पक्का कर लिया हैं। यह वर्ल्ड चैंपियनशिप में उनका आठवां मेडल होगा। इसके साथ ही वह दुनिया की पहली ऐसी बॉक्सर बन जाएंगी, जिसने वर्ल्ड चैंपियनशिप में सर्वाधिक आठ मेडल जीते हैं।

इससे पहले 48 किग्रा वर्ग में छह बार विश्व चैंपियन रह चुकीं  है। मैरीकॉम का  51 किग्रा वर्ग में विश्व चैंपियनशिप में यह पहला पदक होगा। वैसे वह 51 किग्रा  वर्ग में 2014 में एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीत चुकी हैं, और 2018 के एशियन गेम्स और 2012 लंदन ओलंपिक में इसी भार वर्ग में कांस्य पदक भी जीत चुकी हैं।

इसके दो दिन पहले छह बार की चैम्पियन एमसी मैरीकॉम ने थाईलैंड की जुटामास जिटपोंग को 5-0 से हराकर क्वार्टरफाइनल में प्रवेश किया था।

You may also like