sport

एशियाई चैम्पियनशिप में मनु ने साधा गोल्डन निशाना

भारत की निशानेबाज मनु भाकर ने 14वें एशियाई चैम्पियनशिप में महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टर स्पर्धा में स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया है। भाकर से पहले इसी स्पर्धा में दीपक कुमार ने कांस्य पदक जीतने के साथ ही टोक्यो ओलंपिक का टिकट हासिल किया। मनु भाकर की इस  शानदार जीत ने लोगों का दिल खुश कर दिया हैं। वहीं लोग उन्हें जीत की बधाई दे रहे। भाकर  ने फाइनल्स में 244.3 के स्कोर के साथ पहले स्थान पर रहते हुए स्वर्ण पदक अपने नाम किया। चैंपियनशिप में भारत का यह पहला स्वर्ण पदक है। मनु पहले ही टोक्यो ओलंपिक-2020 कोटा हासिल कर चुकी हैं। मनु भाकर का अभी तक अच्छा प्रदर्शन रहा है।

17 साल की युवा निशानेबाज मनु ने इस साल मई में जर्मनी के म्युनिख में हुए विश्व कप निशानेबाजी टूर्नामेंट में महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में चौथे स्थान पर रहते हुए टोक्यो ओलंपिक का कोटा हासिल किया था। फाइनल में भी भारतीय खिलाड़ी का प्रदर्शन अच्छा रहा और उसने कांस्य पदक जीता।

इससे पहले दीपक ने मंगलवार को ही पुरुषों की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा का कांस्य पदक अपने नाम करने के साथ ही 2020 में होने वाले खेलों महाकुंभ के लिए क्वालीफाई किया। भारतीय निशानेबाजों द्वारा हासिल किया गया यह 10वां ओलम्पिक कोटा है। अब तक निशानेबाजी (राइफल एवं पिस्टल स्पर्धा) में एशियाई देशों में चीन ने सबसे अधिक 25 ओलम्पिक कोटे अपने नाम कर चुका है।

मनु भाकर  का जन्म हरियाणा में झज्जर  जिला के गोरिया गांव में हुआ है।17 वर्षीय मनु वर्तमान में 11 वीं कक्षा की छात्रा हैंं। मनु विश्व कप के स्वर्ण पदक जीतने वाली  वे भारत की सबसे कम उम्र की और शायद विश्व की तीसरी सबसे छोटी शूटर हैं ।

You may also like