sport

लॉर्ड्स टेस्ट में बाजी मार वापसी कर सकता है भारत

इंग्लैड और भारत के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच आज से  लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर खेला जाएगा। इस मैच के लिए टीम इंडिया ने एजबेस्टन में मिली 31 रन की करीबी हार के बाद कमर कस ली है। ऐसे में विराट कोहली अंतिम-11 में कई बदलाव के साथ मैदान में उतर सकते हैं। जिसमें से दो स्पिनर्स के साथ उतरने का संकेत हैं । हालांकि विराट को कई पूर्व खिलाड़ियों ने टीम में बड़े बदलाव से बचने की सलाह दी थी।

इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने लॉर्ड्स टेस्ट के लिए 11 सदस्यीय टीम की घोषणा करते हुए कहा कि 20 साल के युवा बल्लेबाज ओली पोप भारत के खिलाफ लार्ड्स में टेस्ट पदार्पण करेंगे। वो डाविड मलान की जगह चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरेंगे। वहीं बेन स्टोक्स की जगह शामिल किए गए क्रिस वोक्स को भी बाहर बैठना पड़ सकता है क्योंकि पिच के स्पिन फ्रेंडली होने की स्थिति में रूट आदिल राशिद और मोईन अली के साथ मैदान में उतरेंगे। तेज गेंदबाज जेमी पोर्टर को अपनी बारी का इंतजार करना पड़ेगा।

भारतीय टीम एजबेस्टन में 31 रन की करीबी हार का सामना करने के बाद क्रिकेट का मक्का कहे जाने वाले लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर दूसरे टेस्ट के लिए पहुंची गई है। आज से  शुरू हो रहे मैच में मेजबान टीम के खिलाफ टीम इंडिया के बाजी मारने की बड़ी संभावना है।  आंकड़े गवाह हैं कि इस मैदान पर पिछले कुछ सालों से मेहमान टीम के मुकाबले मेजबान टीम का खेल फीका नजर आता है। ऐसे में जो रूट की कप्तानी वाली टीम के ऊपर इन दावों को गलत साबित करने का दवाब रहेगा जिसका फायदा टीम इंडिया को मिल सकता है। यदि भारत और इंग्लैंड के बीच साल 2014 में इस मैदान पर खेले गए मुकाबले के बाद के परिणामों पर नजर डाली जाए तो मालूम होता है कि  सात मैचों में से इंग्लैंड केवल तीन मैच जीत सकी है और इतने ही मुकाबलों में उसे हार का सामना करना पड़ा है। जबकि एक मैच ड्रॉ पर समाप्त हुआ है। ऐसे में इंग्लैंड के लिए इस मैदान पर जीत की लय बनाए रखना आसान नहीं होगा। इस ऐतिहासिक मैदान पर आखिरी मैच इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच खेला गया था। इस मैच में पाकिस्तानी पेस बैटरी के सामने इंग्लैंड के बल्लेबाज असहज नजर आए थे।

इससे पहले वेस्टइंडीज और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच में इंग्लैंड को जीत हासिल हुई थी। जबकि इससे पहले पाकिस्तान, श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उसे लगातार तीन मैचों में जीत नसीब नहीं हुई थी। लेकिन रूट की कप्तानी में लॉर्ड्स में इंग्लैंड के प्रदर्शन में सुधार आया है। उनकी कप्तानी में यहां खेले 3 मैचों में से 2 में इंग्लैंड को जीत जबकि एक में हार का सामना करना पड़ा था।

भारतीय क्रिकेट टीम ने इस ऐतिहासिक मैदान पर 17 मैच खेले हैं जिसमें से भारत को दो मैचों में जीत और 11 में हार का सामना करना पड़ा है। वहीं 4 मुकाबले बराबरी पर समाप्त हुए हैं। साल 2014 के दौरे में महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया को लॉर्ड्स में 95 रन से जीत हासिल हुई थी। तब भारतीय टीम इस मैदान पर 28 साल बाद जीत हासिल करने में सफल हुई थी।

पिछली बार जीत हासिल करने वाली टीम के कई खिलाड़ी इस बार भी टीम में हैं जिसमें कप्तान विराट कोहली के अलावा मुरली विजय, शिखर धवन, चेतेश्वर पुजारा, मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा, रवींद्र जडेजा शामिल हैं। ऐसे में ये खिलाड़ी पुरानी जीत से प्रेरणा लेकर मैच में जीत दर्ज कर सीरीज में शानदार वापसी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may also like