sport

टेस्ट चैंपियनशिप में टाॅप पर भारत

  • बांग्लादेश को टी-20 और टेस्ट सीरीज में करारी शिकस्त देने के बाद टीम इंडिया की निगाहें अब वेस्टइंडीज को फतह करने पर है। भारत दौरे पर वेस्टइंडीज को तीन टी-20 और तीन वनडे मैचों की सीरीज खेलनी है। दोनों टीमों के बीच पहले टी-20 सीरीज की शुरुआत टी -20 मुकाबले से छह दिसंबर को हैदराबाद के राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में खेला जाएगा। वहीं, वन-डे  सीरीज की शुरुआत 15 दिसंबर से होगी, जिसका पहला मुकाबला चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में खेला जाएगा।  हाल ही में भारत-बांग्लादेश के बीच कोलकाता के ईडन गार्डंस के मैदान पर खेले गए पहले डे-नाइट टेस्ट में टीम इंडिया ने जीत दर्ज की। दोनों  के बीच दो  टेस्ट मैच की सीरीज के आखिरी टेस्ट मुकाबले को टीम इंडिया ने एक पारी और 46 रन से जीत दर्ज की । इस जीत के साथ ही विराट सेना 2-0 से सीरीज को अपने नाम किया। बांग्लादेश को अब भारत के खिलाफ अपनी पहली टेस्ट जीत का इंतजार और लंबा हो गया। बांग्लादेश पर इस जीत के बाद टीम इंडिया आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के प्वाइंट्स टेबल में और मजबूत हो गई है। विराट सेना के आसपास इस समय कोई टीम नहीं है।
अपनी कप्तानी में भारत को लगातार चैथी बार पारी के अंतर से टेस्ट मैच में जीत दिलाने वाले विराट कोहली ने एक और उपलब्धि अपने नाम कर ली है। भारत ने यहां ईडन गार्डन्स स्टेडियम में खेले गए अपने पहले दिन-रात के टेस्ट मैच में रविवार को बांग्लादेश को एक पारी और 46 रनों से हरा दिया। इसके साथ भारत ने दो मैचों की सीरीज 2-0 से अपने नाम कर ली। उसने इंदौर में खेले गए पहले टेस्ट मैच में भी बांग्लादेश को एक पारी और 130 रनों से हराया था। घर में भारत की यह लगातार 12वीं सीरीज जीत है।  कप्तान के रूप में कोहली की यह अब तक की 33वीं और लगातार सातवीं टेस्ट जीत है।
कोहली ने इसके साथ ही पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के लगातार छह टेस्ट मैचों में जीत दर्ज करने के रिकाॅर्ड को पीछे छोड़ दिया है। भारत ने 2013 में धोनी की कप्तानी में आस्ट्रेलिया के खिलाफ चार और वेस्टइंडीज के खिलाफ दो टेस्ट मैच जीते थे। वहीं, कोहली की कप्तानी में भारत ने एंटिगुआ में वेस्टइंडीज के खिलाफ जीत से शुरुआत की थी और इस विजयी क्रम को दक्षिण अफ्रीका और बांग्लोदश के खिलाफ घरेलू सीरीज में भी कायम रखा। आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप शुरू होने के बाद से भारत की सात मैचों में यह लगातार सातवीं जीत है। अंकतालिका में भारत के अब 360 अंक हो गए हैं और वह मजबूती से टाॅप पर कायम है।
वेस्टइंडीज का  भारत दौरा 
टी -20 सीरीजः
पहला टी20- 6 दिसंबर 2019, मुंबई
दूसरा टी20- 8 दिसंबर 2019, तिरुवनंतपुरम
तीसरा टी20- 11 दिसंबर 2019, हैदराबाद
वनडे सीरीज:
पहला वनडे: 15 दिसंबर 2019, चेन्नई
दूसरा वनडेः 18 दिसंबर 2019, विशाखापत्तनम
तीसरा वनडेः 22 दिसंबर 2019, कटक
कोलकाता टेस्ट में जीत दर्ज करने के साथ ही विश्व टेस्ट चैंपियनशिप की रैंकिंग में नंबर एक पर काबिज भारतीय टीम ने अपनी पकड़ और भी मजबूत कर ली है। टीम इंडिया टेस्ट चैंपियनशिप में अभी तक अपने सभी मैच जीतने वाली इकलौती टीम है। पहले डे-नाइट टेस्ट जीतकर टीम इंडिया विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में 360 अंकों के साथ पहले स्थान पर बरकरार है। जबकि दूसरे स्थान पर आॅस्ट्रेलिया (116), तीसरे पर न्यूजीलैंड (60), चैथे पर  श्रीलंका (60) और पांचवें पर इंग्लैंड (56) की टीम मौजूद है। इससे पहले भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 3-0 से हराया था और वेस्टइंडीज को भी दो मैच की टेस्ट सीरीज में 2-0 से मात दी थी। अब तक विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के तहत जितनी भी टेस्ट सीरीज खेली गई हैं, उनमें केवल भारतीय टीम ने ही सीरीज के अपने सभी मैच जीते हैं। श्रीलंका और न्यूजीलैंड ने दो मैचों की सीरीज 1-1 से बराबर कराई थी और उनमें से प्रत्येक के 60 अंक हैं।
दो मैचों की सीरीज में एक मैच जीतने पर 60 प्वाइंट्स मिलते हैं। तीन मैचों की सीरीज मे एक मैच जीतने पर 40 प्वाइंट्स मिलते हैं। चार मैचों की सीरीज में एक मैच की जीत पर 30 प्वाइंट्स मिलते हैं। वहीं, पांच मैचों की सीरीज में एक मैच जीतने पर 24 प्वाइंट्स मिलते हैं। इसके अलावा एक मैच को ड्रा करने के लिए 8-8 अंक मिलते हैं।  कोलकाता में पिंक गेंद से पहली जीत दर्ज करने के बाद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने आॅस्ट्रेलिया में डे-नाइट टेस्ट खेलने की बात कही है। विराट ने बांग्लादेश से 2-0 से सीरीज जीतने के बाद कहा कि टीम इंडिया अगले साल आॅस्ट्रेलिया में डे-नाइट टेस्ट खेलने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि गुलाबी गेंद से आॅस्ट्रेलियाई जमीन पर खेलने के लिए बेहतर तैयारी करनी होगी।  पिछले साल भारत ने आॅस्ट्रेलिया के साथ एडिलेड में डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने से इंकार कर दिया था।
बांग्लादेश के खिलाफ गुलाबी गेंद से पहली बार टेस्ट मुकाबला खेलने उतरी टीम इंडिया ने ऐतिहासिक जीत दर्ज की। भारतीय कप्तान ने पिंक बाॅल से शतक ठोकने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बने। ऐसा माना जा रहा है कि अगले साल गाबा में भारत और आॅस्ट्रेलिया के बीच डे-नाइट टेस्ट मुकाबला गुलाबी गेंद से हो सकता है। भारत-आॅस्ट्रेलिया के बीच अगर डे-नाइट टेस्ट मैच हुआ तो दर्शकों को एक जबरदस्त
रोमांचक मुकाबला देखने को मिल सकता है, जो बांग्लादेश के खिलाफ नहीं मिला। मालूम हो कि कोलकाता टेस्ट मैच के तीनों दिन 50 हजार से ज्यादा दर्शकों ने एक साथ स्टेडियम में बैठकर मैच देखा है।
आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप की टाॅप पांच टीमें
टीम                               मैच               जीत              हार                ड्राॅ टोटल               अंक

 

भारत                                 6              6                        0                       0                        360

आॅस्टेªलिया                    6              3                            2                        1                      116

न्यूजीलैंड                          2               1                           1                         0                      60

श्रीलंका                            5                2                          2                        1                      56

इंग्लैंड                               5               2                            2                           1                  56

विराट कोहली ने कहा कि गुलाबी गेंद से खेल के लिए पूरी तरह से योजना बनाई जानी चाहिए। कप्तान के रूप में कोहली की यह 33वीं टेस्ट जीत है। विराट ने कहा कि हम अगली सीरीज न्यूजीलैंड में खेलेंगे और हमारे दिमाग में अब अगली सीरीज जीत है। देखते हैं कि विदेशी  जमीन पर क्या होता है। वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज के लिए भारतीय टीम:
टी-20 सीरीज के लिए भारतीय टीम-विराट कोहली (कप्तान) रोहित शर्मा (उप-कप्तान), केएल राहुल, शिखर धवन, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, रिषभ पंत (विकेटकीपर), शिवम दुबे, वाशिंग्टन सुंदर, रविंद्र जडेजा, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, मोहम्मद शमी, दीपक चहर और भुवनेश्वर कुमार।
वनडे सीरीज के लिए भारतीय टीम- विराट कोहली (कप्तान) रोहित शर्मा (उप-कप्तान), शिखर धवन, केएल राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, रिषभ पंत (विकेटकीपर), केदार जाधव, शिवम दुबे, रविंद्र जडेजा, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, दीपक चहर, मोहम्मद शमी और भुवनेश्वर कुमार।

You may also like