[gtranslate]
sport

छीन सकती है मेजबानी

कोरोना महामारी की दूसरी लहर से चारों तरफ कोहराम मचा हुआ है। पिछले एक हफ्ते से तो इसका प्रकोप इस कदर बढ़ गया है कि मानों गंगा उल्टी बहने लगी हो, लाख कोशिशों के बावजूद कोरोना संक्रमण थमने के बजाय लगातार बढ़ता ही जा रहा है, जो अब बेकाबू सा हो गया है। पिछले कुछ दिनों से देश में हर दिन साढ़े तीन लाख से ज्यादा नए मामले आ रहे हैं। इसका असर अब इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2021 और साल के अंत भारत में खेले जाने वाला टी-20 वल्र्ड कप पर भी पड़ता दिख रहा है। कोविड-19 के चलते देश की जो स्थिति हो गई है, उसको देखते हुए इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) भारत से टी-20 वल्र्ड कप की मेजबानी छीन सकता है।

भले टी-20 वल्र्ड कप होने में अभी छह महीने का समय है, लेकिन भारत की मौजूदा स्थिति को देखते हुए ऐसा माना जा रहा है कि युनाइटेड अरब अमीरात (यूएई) को टी-20 वर्ल्ड कप की मेजबानी दी जा सकती है। खबरों की माने तो आईसीसी ने यूएई को स्टैंडब्वाॅय वेन्यू के तौर पर रखा हुआ है। पिछले साल आईपीएल मैच यूएई में ही खेले गए थे।

टी-20 वल्र्ड कप पिछले साल आॅस्ट्रेलिया में खेला जाना था, लेकिन कोविड-19 महामारी के चलते इसको स्थगित करना पड़ा था। टी-20 वल्र्ड कप के लिए भारत ने नौ वेन्यू तय किए हैं। फाइनल मैच अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले जाने की बात हुई है।

रिपोर्ट की मानें तो इस समय आईसीसी का प्रतिनिधिमंडल भारत में है और पिछले सप्ताह टी-20 विश्व कप के लिए नौ स्थलों का प्रस्ताव रखा गया था। टी-20 विश्व कप के अक्टूबर के मध्य में शुरू होने और संभवतः 13 नवंबर को खत्म होने की आशंका है। बीसीसीआई ने बीते साल आईपीएल का आयोजन भी यूएई में कराया था और तब भारत में कोविड के मामले मौजूदा दौर की तुलना में कम थे और कम तेजी से फैल रहे थे, लेकिन मौजूदा समय स्थिति काफी खौफनाक है।

भारत में कोविड के बढ़ते मामलों को देखते हुए आॅस्ट्रेलिया ने 15 मई तक भारत से आने वाले विमानों पर रोक लगा दी है जिससे भारत में इस समय जारी आईपीएल में हिस्सा ले रहे आॅस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को परेशानी में डाल दिया है। तीन आॅस्ट्रेलियाई खिलाड़ी, एडम जाम्पा, केन रिचर्डसन और एंड्रयू टाय आईपीएल को बीच में छोड़ स्वदेश लौट चुके हैं। आॅस्ट्रेलियाई मीडिया में इस तरह की खबरें हैं कि भारत में आईपीएल में हिस्सा ले रहे आॅस्ट्रेलिया के कोच, खिलाड़ी, काॅमेंटेटर लीग बीच में छोड़ स्वदेश लौटना चाहते हैं लेकिन भारत की समाचार एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट की मानें तो आॅस्ट्रेलियाई क्रिकेटर लीग के खत्म होने तक यहीं रहना चाहते हैं। एएनआई ने अपनी रिपोर्ट में क्रिकेट आॅस्ट्रेलिया के सूत्रों के हवाले से लिखा है कि ‘‘खिलाड़ी टूर्नामेंट के अंत तक वहां रहना चाहते, अगर कोई बड़ी घटना नहीं होती है तो इसके इतर जो मीडिया रिपोर्टस चल रही हैं वो गलत हैं।’’

भारत के चोटी के अंपायर नितिन मेनन और आॅस्ट्रेलिया के पाॅल रीफेल निजी कारणों से इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) से हट गए हैं। बताया जा रहा है कि इंदौर के रहने वाले मेनन की पत्नी और मां कोरोना संक्रमित हो गए हैं। ऐसे में उन्होंने आईपीएल के बायो बबल से बाहर निकलने का फैसला किया।

बता दें कि मेनन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के अंपायरों के एलीट पैनल में शामिल एकमात्र भारतीय हैं। भारत और इंग्लैंड के बीच हाल में समाप्त हुई शृंखला के दौरान अच्छी अम्पायरिंग के लिए उनकी काफी सराहना हुई थी।

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के एक अधिकारी ने नितिन मेनन के आईपीएल से हटने की पुष्टि की। उन्होंने बताया कि नितिन के परिवार के सदस्य कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। ऐसे में वह अभी मैचों का संचालन करने की स्थिति में नहीं हैं। वहीं, पाॅल रीफेल ने भारत में कोविड-19 के बढ़ते मामलों और आॅस्ट्रेलिया के यात्रा प्रतिबंध को देखते हुए आईपीएल से हटने का निर्णय किया। मेनन टूर्नामेंट से हटने वाले दूसरे भारतीय हैं। उनसे पहले आॅफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने परिवार के सदस्यों के संक्रमित होने के बाद घर लौटने का फैसला किया था।

इससे पहले आॅस्ट्रेलिया के एंड्रयू टाई, केन रिचर्डसन और एडम जाम्पा भारत में स्वास्थ्य संकट को देखते हुए आईपीएल बीच में छोड़कर स्वदेश लौट गए। हालांकि, बीसीसीआई ने आश्वासन दिया है कि खिलाड़ी और सहयोगी स्टाफ बायो बबल में सुरक्षित हैं। बीसीसीआई मेनन और रीफेल की जगह अपने अंपायर पूल से नए अंपायरों की नियुक्ति कर सकता है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD