[gtranslate]
sport

फाफ डु प्लेसिस ने साउथ अफ्रीका के सभी फॉर्मेट से कप्तानी छोड़ी

फाफ डु प्लेसिस ने साउथ अफ्रीका के सभी फॉर्मेट से कप्तानी छोड़ी

साउथ अफ्रीका के फाफ डु प्लेसिस ने टेस्ट और टी-20 इंटरनेशनल टीम की कप्तानी से इस्तीफा दे दी हैं। इसके पहले उन्होंने वनडे टीम की कप्तानी छोड़ चुके हैं। अब डु प्लेसिस की जगह क्विंटन डीकॉक को कप्तान बना दिया गया है।

डु प्लेसिस की कप्तानी में साउथ अफ्रीकी टीम बेहद खराब प्रदर्शन कर रही थी जिसके बाद उन पर पद छोड़ने का दबाव बना हुआ था। साउथ अफ्रीका ने 8 में से 7 टेस्ट गंवा दिए थे। इंग्लैंड के खिलाफ तीन मैचों की टी-20 इंटरनेशनल सीरीज में भी क्विंटन डिकॉक ने ही टीम की कमान संभाली थी, जबकि फाफ डु प्लेसिस को टीम से आराम दिया गया था।

हाल ही में फाफ डु प्लेसिस की कप्तानी में साउथ अफ्रीका को इंग्लैंड के खिलाफ चार मैचों की घरेलू टेस्ट सीरीज में 1-3 से शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा था। उन्होंने कप्तानी छोड़ने पर कहा, “मैंने जब टीम की कप्तानी संभाली थी तो मेरा लक्ष्य इस टीम के प्रदर्शन को और अच्छा करना था। अब टीम एक नई दिशा की ओर जा रही है और ऐसे में मुझे लगता है कि अब हर फॉर्मेट में साउथ अफ्रीका की कप्तानी छोड़ने का वक्त आ गया है। ये फैसला लेना मेरे लिए बेहद कठिन था लेकिन मैं क्विंटन डीकॉक, कोच मार्क बाउचर को पूरा सहयोग करूंगा हम टीम को मिलकर मजबूत बनाएंगे।”

 

फाफ डु प्लेसिस की कप्तानी में साउथ अफ्रीका ने 112 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले खेले, जिसमें टीम को 69 में जीत मिली। डु प्लेसी ने 36 टेस्ट मैचों में कप्तानी की और उन्हें 18 में जीत और 15 में हार का सामना करना पड़ा और 3 टेस्ट मैच ड्रॉ रहे। डु प्लेसिस की कप्तानी में साउथ अफ्रीका ने 39 में से 28 वनडे मैच जीते और 10 में उसे हार का सामना करना पड़ा है और एक मुकाबला बेनतीजा रहा। वहीं 37 टी-20 मैचों में से 23 में जीत हासिल की और 13 में उसे हार मिली और एक मैच टाई रहा। उन्होंने 112 इंटरनेशनल मुकाबलों में 43.59 की औसत से 5101 रन बनाए हैं। डु प्लेसिस ने बतौर कप्तान 11 शतक और 28 अर्धशतक लगाए।

You may also like