[gtranslate]
sport

IPL-2020 से पहले ही चेन्नई सुपर बढ़ती मुश्किलें 

कोरोना काल के बीच इस बार आईपीएल 2020 यूएई में 19 सितंबर से शुरू होने जा रहा है। जिसकी  तैयारियां जोरों पर है। इस महाकुंभ के शुरू  होने में अब कुछ तीन ही हफ्तों का समय बचा है लेकिन इस बीच चेन्नई सुपर किंग के लिए मुश्किलें  बढ़ती ही जा रही हैं ।

चेन्नई की टीम दुबई में रह रही है। उसकी टीम में कोरोना वायरस के 13 मामले पाए गए जिसमें टीम के दो अहम सदस्य दीपक चाहर और ऋतुराज गायकवाड़ भी शामिल हैं। आईपीएल सूत्रों के अनुसार हाल में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने वाले रैना के फैसले में इसने भी अहम भूमिका निभाई है।

इस बीच सीएसके को  एक और झटका लगा है। ख़बरों के  मुताबिक रैना के बाद चेन्नई सुपर किंग के स्टार  गेंदबाज हरभजन सिंह  भी इस आईपीएल को छोड़ सकते हैं।  खबर है कि  हरभजन सिंह शायद आईपीएल के 13वें सीजन को छोड़ने के बारे में सोच रहे हैं।  हालांकि हरभजन अभी तक यूएई नहीं पहुंचे हैं।

सुरेश रैना के भारत वापस लौट आने के बाद  अब पता चला कि टीम प्रबंधन पृथकवास के दौरान इस 32 वर्षीय खिलाड़ी के व्यवहार से खुश नहीं था जिससे सीएसके के मालिक और बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष एन श्रीनिवासन भी नाराज थे।

सुरेश रैना के बारे में कहा गया कि वह ‘निजी कारणों’ से इंडियन प्रीमियर लीग  से हटे लेकिन लगता है कि चेन्नई सुपरकिंग्स  के साथ उनका लंबा सफर अब खत्म हो गया है क्योंकि यह फ्रेंचाइजी 2021 सत्र से पहले उनसे नाता तोड़ सकती है।

दरअसल  कुछ दिन पहले खबर आई थी कि टीम का एक गेंदबाज और कुछ स्टाफ सदस्य कोरोना  पॉजिटिव पाए गए हैं। इसके बाद टीम का एक खिलाड़ी  सुरेश रैना निजी कारणों  का हवाला देकर भारत  रवाना हो गए और इन सबके बाद खबर आई कि सीएसके का एक और खिलाड़ी कोरोना  पॉजिटिव पाया गया है। रैना के स्वदेश लौटने को लेकर सीएसके के मालिक और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के पूर्व अध्यक्ष एन श्रीनिवासन ने कुछ ऐसी बातें कही हैं, जो हैरानी भरी हैं। श्रीनिवासन ने कहा कि रैना जब से दुबई पहुंचे, वो अलग-अलग बातों के लिए शिकायत करते रहे।

सीएसके के उप-कप्तान सुरेश रैना के आईपीएल -2020 से हटने के फैसले ने सबको चौंका दिया। पहले खबरें आईं कि रैना के परिवार में हुए डकैतों के हमले के चलते वो स्वदेश लौटे, फिर  खबर आई कि  उनके लिए बच्चों की सेहत सबसे बड़ी प्राथमिकता है और सीएसके में ऐसे अचानक कोविड-19 पॉजिटिव केस आने के बाद वो थोड़ा घबरा गए और स्वदेश लौटने का फैसला लिया। इसके बाद सोशल मीडिया पर खबरें आई कि रैना ने होटल रूम को लेकर हुए विवाद के चक्कर में स्वदेश लौटने का फैसला लिया। श्रीनिवासन ने एक इंटरव्यू में बताया कि रैना के इस तरह जाने से सभी तो हैरान हैं, लेकिन कप्तान धोनी ने कहा है कि स्थिति कंट्रोल में है।

श्रीनिवासन ने कहा, ‘क्रिकेटर्स खुद को आत्मदंभी समझने लगे हैं, जैसे पिछले जमाने में नखरा करने वाले ऐक्टर्स होते थे। सीएसके हमेशा से एक परिवार की तरह रहा है और सभी सीनियर क्रिकेटरों ने इसमें रहना सीखा है। मेरी सोच है कि अगर आप किसी बात पर अड़े हैं या किसी बात से नाखुश हैं, तो वापस जाइए। मैं किसी को कुछ करने के लिए फोर्स नहीं करता। कभी-कभी कामयाबी आपके सिर पर चढ़ जाती है।’ श्रीनिवासन ने साथ ही कहा कि कप्तान धोनी ने भरोसा दिलाया है कि कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए खिलाड़ी जल्द रिकवर कर रहे हैं। श्रीनिवासन ने साथ ही कहा कि रैना को समझ आएगा कि वो क्या खो रहे हैं, खासकर पैसे को लेकर।

उन्होंने कहा, ‘मैंने एमएस से बात की और उन्होंने मुझे कहा कि अगर और खिलाड़ी भी कोरोना  पॉजिटिव पाए जाते हैं, तो भी परेशान होने की जरूरत नहीं है। उन्होंने जूम कॉल के जरिए खिलाड़ियों से बात की और सबसे सेफ रहने के लिए कहा है, आपको नहीं पता कि कौन पैसिव कैरियर है।सीजन अभी शुरू भी नहीं हुआ है और रैना को समझ में आएगा कि वो क्या खो रहे हैं, और पैसा (हर सीजन के लिए 11 करोड़ रुपये की सैलरी) जो वो खोएंगे।’

अटकलें लगाई जा रही हैं  कि रैना ने जैव सुरक्षित वातावरण का उल्लंघन किया था। इस मामले में रैना की माफी से खास प्रभाव नहीं पड़ेगा क्योंकि टीम भविष्य के बारे में सोच रही है। सूत्रों ने कहा, सीएसके अब ऋतुराज को भविष्य के लिए तैयार करना चाहेगा तथा धोनी और (मुख्य कोच स्टीफन) फ्लेमिंग उसी हिसाब से अपनी रणनीति बनाएंगे.’ रैना ने सीएसके की तरफ से 164 मैचों में सर्वाधिक 4 हजार 527 रन बनाए हैं।  आईपीएल में उनके नाम पर 5 हजार 368 रन दर्ज हैं और वह इस टी-20 टूर्नामेंट में सर्वाधिक रन बनाने के मामले में भारतीय कप्तान विराट कोहली के  5 हजार 412 रनों  के बाद दूसरे स्थान पर हैं।

You may also like

MERA DDDD DDD DD