[gtranslate]
sport

भारत – इंग्लैंड टेस्ट सीरीज से पहले सामने आया बड़ा बयान 

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच ऑस्ट्रेलिया में खेली गई चार टेस्ट मैचों की बॉर्डर गावस्कर सीरीज में इतिहास रच भारत ने सीरीज अपने नाम करने के बाद अब भारत और इंग्लैंड के बीच पांच फरवरी से शुरू हो रही टेस्ट सीरीज के पहले बड़ा बयान सामने आया है। यह बयान दिया है इंग्लैंड के पूर्व स्पिन गेंदबाज ग्रीम  स्वान ने। उन्होंने कहा कि अगर इंग्लैंड की टीम भारत को टेस्ट सीरीज में हरा देती है तो यह उनके लिए एशेज जीतने से भी बड़ी उपलब्धि होगी। भारत की टीम अभी ऑस्ट्रेलिया को उसी की सरजर्मी पर चार मैचों की टेस्ट सीरीज में 2-1 से हराकर लौटी है। विराट कोहली की गैरमौजूदगी में रहाणे की कप्तानी में टीम  का प्रदर्शन ऑस्ट्रेलिया दौरा पर शानदार रहा और टीम लगातार दूसरी बार बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी को अपने नाम करने में सफल रही।

ग्रीम स्वान ने  कहा कि इंग्लैंड हमेशा कहता है कि एशेज सीरीज होने वाली है। ऑस्ट्रेलिया अब दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीम नहीं है। कभी वे होते थे, काफी आगे। अब ऐसा नहीं है लेकिन हमारे अंदर इसे लेकर जुनून है। हमें एशेज सीरीज से आगे बढ़ना होगा। मुझे लगता है कि अभी भारत को भारत में हराना इससे कहीं बड़ी उपलब्धि है। वर्ष 2012 में उन पर हमारी जीत के बाद से वे भारत में लगभग अजेय हैं। इंग्लैंड की टीम ने भारत के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज खेलनी है, जिसका पहला मैच पांच  फरवरी से खेला जाएगा। यह टेस्ट सीरीज विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में होने के चलते दोनों टीमों के लिए काफी महत्वपूर्ण होने वाली है।

पूर्व स्पिन गेंदबाज ने इंग्लैंड के खिलाड़ियों को अतीत की गलतियों से सीखने और केविन पीटरसन की तरह स्पिन का सामना करने को कहा, जिसकी बदौलत इंग्लैंड 2012 में भारत में टेस्ट सीरीज जीतने में सफल रहा था। उन्होंने कहा कि लोग ऐसा क्यों नहीं कह रहे है कि यह मौका है कि स्पिन खेलने वाले अच्छे खिलाड़ियों के साथ इस टीम का सामना किया जाए। और  कदमों का इस्तेमाल करो, हम जिस तरह स्पिन का सामना करते हैं उसे पूरी तरह बदल दो और इसके बाद हम भारत को हरा सकते हैं। हम भारत को तब तक नहीं हरा सकते जब तक कि स्पिनर विकेट ना चटकाए और इसके बाद किसी को उस तरह बल्लेबाजी करनी होगी जैसी केविन पीटरसन ने की थी।

You may also like

MERA DDDD DDD DD